Home » मध्य प्रदेश » mp cm shivraj chauhan gives award to Havaldar Abhishek who saved lives of 400 school children's in sagar.
 

इस जांबाज पिता को अपने नहीं बल्कि स्कूल के 400 बच्चों की चिंता थी, लिया मौत से पंगा

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 August 2017, 14:42 IST

मध्य प्रदेश के सागर में 400 से ज्यादा स्कूली बच्चों की जान बचाने वाले एमपी पुलिस के हवलदार अभिषेक पटेल को राज्य सरकार ने सोमवार को सम्मानित किया. एमपी के सीएम शिवराज चौहान ने पुलिसकर्मी के साहस को सलाम करते हुए उसे 50 हजार रुपये का नगद पुरस्कार दिया.

एमपी की राजधानी भोपाल में मुख्यमंत्री आवास पर सोमवार को आयोजित एक कार्यक्रम में सीएम शिवराज ने सागर जिले में तैनात हवलदार अभिषेक पटेल को सम्मानित किया. इसकी जानकारी शिवराज ने ट्विटर पर दी.

एक किलोमीटर तक जिंदा बम लेकर भागे अभिषेक पटेल

मध्य प्रदेश के सागर ज़िले के चितौरा गांव में शुक्रवार को हायर सेकेंडरी स्कूल के पास बच्चों ने एक बम देखा. इसकी सूचना तुरंत पुलिस को दी गई. मौके पर पहुंची पुलिस ने स्कूल परिसर में रखे बम को देखा. स्कूल परिसर में रखे इस बम के कारण स्कूली बच्चों की जान को खतरा हो सकता था.

ऐसे में बच्चों की सुरक्षा को देखते हुए सागर पुलिस के जांबाज हवलदार अभिषेक पटेल ने बम को हाथ में उठाकर खुले मैदान की ओर दौड़ लगा दी. करीब एक किलोमीटर तक बम को कंधे में रखकर भागने वाले अभिषेक ने इसे खुले मैदान में छोड़ दिया, जिस कारण बड़ा हादसा होने से बच गया. इसके बाद बम निरोधक दस्ता मौके पर पहुंचा और बम डिप्यूज़ किया.

निभाया अपना फर्ज

बीबीसी से बातचीत में 32 साल के अभिषेक का कहना है कि उन्होंने वही किया जो इस तरह के हालात में एक पुलिस वाले को करना चाहिए था. दो बच्चों के पिता अभिषेक ने बताया कि उस वक़्त उन्होंने अपने परिवार के बारे में नहीं सोचा. उस वक़्त उन्हें स्कूल के बच्चों का ही ध्यान था. अभिषेक पटेल का बेटी 5 साल की है और बेटा 2 साल का.

पुलिस के मुताबिक़ यह बम आर्मी का था और अगर इसमें विस्फोट हो जाता तो 500 मीटर के इलाके में गंभीर नुकसान पहुंचता. पुलिस का कहना है कि पास ही आर्मी की शूटिंग रेंज है और यह बम वहीं से आया होगा. यह बम स्कूल के पास कैसे पहुंच गया, इसकी जांच की जा रही है.

First published: 29 August 2017, 14:42 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी