Home » मध्य प्रदेश » Rahul gandhi tweet on Five Seers to Get Minister of State Status by the Shivraj Singh Chouhan
 

राहुल गांधी ने ट्वीट कर शिवराज पर साधा निशाना, बाबाओं को मंत्री बनाने पर लिखी पैरोडी

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 April 2018, 14:46 IST

मध्य प्रदेश में शिवराज सरकार द्वारा 5 संतों को राज्यमंत्री का दर्जा दिए जाने को लेकर सियासत तेज हो गई है. विपक्षी पार्टियां सीएम शिवराज सिंह पर लगातार हमला बोल रही हैं. अब कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने इसको लेकर शिवराज सिंह चौहान पर निशाना साधा है.

इसके साथ ही उन्होंने पांचों बाबाओं पर भी तंज कसा है. राहुल गांधी ने मध्य प्रदेश में पांच बाबाओं को राज्य मंत्री का दर्जा दिए जाने को लेकर एक ट्वीट किया हैं. राहुल ने अपने ट्वीट के साथ पांच बाबाओं को राज्यमंत्री बनाए जाने की नवभारत टाइम्स की एक खबर को भी शेयर किया है.

राहुल गांधी ने ट्वीट में लिखा, बाबा कहते थे बड़ा काम करूंगा, नर्मदा घोटाला नाकाम करूंगा मगर यह तो, मामा ही जाने अब इनकी मंज़िल है कहां! मध्य प्रदेश, क़यामत से क़यामत तक. राहुल गांधी ने अपने इस ट्वीट के साथ एक खबर भी पोस्ट की है. जिममें राज्य मंत्री का दर्जा मिलने के बाद पांचों बाबाओं के आए बयानों को लेकर खबर है. इसमें पांचों बाबाओं के बदले हुए सुर का जिक्र किया गया है.

गौरतलब है कि  शिवराज सरकार में पांच बाबाओं कंप्यूटर बाबा, भय्यूजी महाराज, नर्मदानंद, हरिहरनंद, पंडित योगेंद्र महंत को राज्यमंत्री का दर्जा दिया गया है. कंप्यूटर बाबा और योगेंद्र महंत ने शिवराज सरकार के खिलाफ नर्मदा घोटाला यात्रा निकालने का ऐलान किया था.

कंप्यूटर बाबा ने 28 मार्च को शिवराज सरकार की नर्मदा यात्रा वृक्षारोपण पर सवाल उठाते हुए इसमें घोटाले होने की बात कही थी. इतना ही नहीं कम्प्यूटर बाबाओं ने शिवराज सरकार पर भी आरोप लगाए थे. ऐसी खबरें है कि विधानसभा चुनाव को देखते हुए शिवराज सिंह चौहान नहीं चाहते थे कि उनकी सरकार पर और किसी तरह के आरोप लगें.

इसी को देखते हुए पांचों बाबाओं को राज्यमंत्री का दर्जा दिया गया है, ताकि नर्मदा यात्रा वृक्षारोपण को लेकर लग रहे आरोपों को रोका जा सके. शिवराज सरकार ने इसको रोकने के लिए कम्प्यूटर बाबा से संपर्क किया. राज्यमंत्री दर्जा दिए जाने को लेकर सौदा तय हुआ. शिवराज सरकार ने पांचों बाबाओं को राज्यमंत्री का दर्जा दिए जाने का आदेश पारित कर दिया.

First published: 5 April 2018, 14:46 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी