Home » मध्य प्रदेश » Son refuses to recognize father in court in Madhaya Pradesh
 

बेटे ने कोर्ट में पिता को पहचानने से किया इंकार, वजह जानकर रह जाएंगे दंग

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 March 2019, 15:11 IST

दुनिया के हर मां-बाप अपने बच्चों को पढ़ा-लिखाकर कामयाब इंसान बनाना चाहता है, लेकिन कई बार बुढ़ापे में उनके ये बच्चे उनके साथ कैसा व्यवहार करते हैं इसकी एक बानगी मध्यप्रदेश में देखने को मिली. जब एक बेटे ने कोर्ट में अपने पिता को पहचानने से इंकार कर दिया. वो भी पिता को चंद पैसे देने की खातिर.

मामला, मध्यप्रदेश के धार जिले का है. जहां एक बेटे ने पिता को गुजारा भत्ता ना देना पड़े इसलिए उसने पिता को पहचानने से इंकार कर दिया. बता दें कि धार के रहने वाले बाबूलाल काफी समय से धार के ही एक वृद्धाश्रम में रहकर जीवन यापन कर रहे थे. बाबूलाल के बेटे गोपाल ने पहले तो कुछ सालों तक अपने पिता को गुजारा भत्ता दिया, लेकिन बाद में इससे बचने के लिए अपने ही पिता को पहचानने से इंकार कर दिया.

जानकारी के मुताबिक गोपाल हर महीने अपने पिता को 3 हजार रुपये गुजारा भत्ता देता था, लेकिन कुछ समय बाद उसने पिता को आर्थिक तंगी का हवाला देते हुए मासिक भत्ता देने से मना कर दियाउम्र के इस पड़ाव में धार के वृ़द्धाश्रम में जीवन यापन कर रहे बाबूलाल के तीन बच्चे हैं, लेकिन पत्नी से अलग होने के बाद दो बच्चे पत्नी के पास रहने लगे और एक बाबूलाल के साथ.

बाबूलाल ने गोपाल को पढ़ाने लिखाने और उसका भविष्य संवारने में कोई कमी नहीं छोड़ी. यही नहीं बाबूलाल ने अपना सबकुछ गोपाल के नाम कर दिया. लेकिन जब बाबूलाब बूढ़े होने लगे तो बेटे ने पिता की जिम्मेदारी निभाने से इंकार कर दिया. यही नहीं गोपाल ने बाबूलाल को धार के वृद्धाश्रम भेज दिया. जहां वो पिता की देखभाल के लिए हर महीने तीन हजार रुपये भेजा करता था, लेकिन कुछ दिन पैसे भेजने के बाद उसने पिता को पैसे भेजना बंद कर दिया.

उसके बाद बाबूलाल ने कोर्ट में फरियाद की, जहां उन्हें इंसाफ मिला और बेटे को पिता को 3 हजार रूपये प्रति माह गुजारा भत्ता दिए जाने का आदेश दिया, धार जिला की प्रधान न्यायाधीश कुटुम्ब न्यायालय उषा गेडाम ने प्रकरण की सुनवाई करने के बाद बेटे गोपाल को पिता बाबूलाल को हर माल 3 हजार रुपये गुजारा भत्ता देने का आदेश दिया है. बता दें बाबूलाल की उम्र 75 साल की है.

पत्नी के प्यार की परीक्षा लेने के चक्कर में अपनी हड्डियां टुड़वा बैठा ये शख्स, जानें कैसे

First published: 16 March 2019, 15:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी