Home » मध्य प्रदेश » Stone Pelting On MP CM Shivraj Singh Chauhan Janashirwad Yatra
 

मध्यप्रदेश: सीएम शिवराज सिंह चौहान के वाहन पर पत्थरबाजी, काले झंडे दिखाए गए

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 September 2018, 11:48 IST

मध्य प्रदेश में होने वाले आगामी विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने कमर कस ली है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान खुद विधानसभा चुनाव प्रचार की कमान संभाले हुए हैं. चौथी बार सूबे की कमान संभालने के लिए सीएम शिवराज सिंह चौहान पूरी तरह तैयारी में जुट गए हैं. लोगों को रिझाने के लिए सीएम ने मध्य प्रदेश में जनआशीर्वाद यात्रा की शुरुआत की है.

रविवार की शाम सीएम की जनआशीर्वाद यात्रा सीधी जिले के चुरहट में पहुंची थी. सड़के दोनों ओर लोगों की भारी भीड़ थी. सीएम शिवराज हाथ जोड़कर लोगों का अभिवादन कर रहे थे अपने चहते मुख्यमंत्री को देखने के लिए सैकड़ों की संख्या में लोग छतों पर जुटे हुए थे. तभी भीड़ के बीच से कुछ लोगों ने नारेबाजी करना शुरु कर दी. विरोध करने वाले लोग सीएम के खिलाफ नारेबाजी करने लगे.

कुछ लोगों ने यात्रा को काले झंडे भी दिखाए और यात्रा को वापस ले जान की बात कही. इसी बीच कुछ लोगों ने सीएम की जनआशीर्वाद यात्रा के वाहनों पर पथराव शुरु कर दिया. देखते ही देखते भीड़ में अफरातफरी मच गई. पथराव से जनआशीर्वाद यात्रा में शामिल बस का शीशा टूट गया. गनीमत ये रही कि सीएम शिवराज सिंह सहित किसी को कोई चोट नहीं आई.

घटना के बाद पुलिस ने 20 संदिग्ध लोगों को सीएम के खिलाफ नारे लगाने, काला झंडा दिखाने और पथराव करने के आरोप में गिरफ्तार किया है. सीएम शिवराज सिंह चौहान ने इस घटना को हिंसक राजनीति बताया है. उन्होंने इस घटना के लिए कांग्रेस को जमकर खरीखोटी सुनाईं.

उन्होंने कहा कि राजनीति क्या इतनी हिंसक हो जाएगी, क्या चोरी छिपे पत्थर मारे जाएंगे. सीएम ने कहा कि, “सुन लो अजय सिंह और राहुल गांधी, मैं तुम्हारी गीदड़ भभकी से डरने वाला नहीं हूं. मैं अपनी मेहनत के दम पर यहां तक पहुंचा हूं, ना कि अपने मां-बाप के सहारे.”

गौरतलब है कि सीएम की जनआशीर्वाद यात्रा मध्यप्रदेश विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह की विधानसभा चुरहट में पहुंची थी. तभी ये वाकया पेश आया. वहीं घटना के बाद पुलिस ने मामले की जांच शुरु कर दी है और 20 लोगों को गिरफ्तार किया है.

ये भी पढ़ें- 'मामा शिवराज सिंह चौहान' ने टीचर बनकर बच्चों की ली जमकर क्लास

First published: 3 September 2018, 11:48 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी