Home » महाराष्ट्र न्यूज़ » Bus and auto fall into well after Crash in Nasik 25 Killed
 

नासिक : जबरदस्त भिड़ंत के बाद कुएं में गिरे बस और ऑटो, अबतक 25 लोगों की मौत

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 January 2020, 9:22 IST

Bus Auto Crash in Nasik: महाराष्ट्र (Maharashtra) के नासिक (Nasik) में बस और ऑटो की जबरदस्त भिड़ंत (Bus-Auto Accident) में 25 लोगों की मौत हो गई और करीब 30 लोग घायल हो गए. टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि बस और ऑटो (Auto) एक कुएं (Well) में जा गिरे. जानकारी के मुताबिक, हादसा नासिक जिले में शामराज्य परिवहन (Shaamrajya Transport) की एक बस से हुआ. पुलिस के मुताबिक, टक्कर के बाद दोनों गाड़ियां सड़क किनारे स्थित कुएं में गिर गईं.

हादसा नासिक में मालेगांव-देओला सड़क पर मेशी फाटा पर मंगलवार शाम को हुआ. महाराष्ट्र के परिवहन मंत्री अनिल पराब ने हादसे में मरने वालों के परिजनों को 10-10 लाख रुपये आर्थिक मदद देने की घोषणा की है. परिवहन मंत्री ने हादसे में घायलों का मुफ्त इलाज की भी बात कही है. बताया जा रहा है कि हादसे में घायल ज्यादातर यात्री बस में सवार थे.


अधिकारियों के मुताबिक, मरने वालों में दोनों वाहनों में सवार लोग शामिल हैं. हादसे में बस चालक की भी मौत हो गई है. उन्होंने बताया कि मृतकों में कई महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं. अधिकारियों का कहना है कि टक्कर इतनी तेज थी कि टक्कर मारने के बाद बस ऑटो को घसीटती हुई सड़क किनारे स्थित कुएं में ले गई और दोनों गाड़ियां कुएं में गिर गईं.

नासिक ग्रामीण, पुलिस अधीक्षक आरती सिंह का कहना है कि कुएं में से कम से कम 25 शवों को निकाला गया है और घायलों को सरकारी अस्पतालों में भर्ती कराया गया है. उन्होंने बताया कि, हम कई पंप की मदद से कुंए से पानी निकाल रहे हैं ताकि यह देख सकें कि क्या और यात्री अब भी कीचड़ में फंसे हुए हैं. एक अन्य अधिकारी का कहना है कि महाराष्ट्र राज्य सड़क परिवहन निगम की बस धुले जिले से नासिक के कल्याण जा रही थी, वहीं ऑटो विपरीत दिशा से आ रहा था. पुलिस ने बताया कि बस को कुएं से बाहर निकाल लिया गया है. इस बीच एमएसआरटीसी ने देर शाम जारी विज्ञप्ति में कहा कि इस घटना के लिए पहली नजर में चालक की गलती लगती है.

परिवहन मंत्री और एमएसआरटीसी के अध्यक्ष अनिल परब ने दुर्घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है. साथ ही मृतकों के परिजनों को 10-10 लाख रुपये का मुआवजा देने की घोषणा की है. उन्होंने कहा कि घायलों के इलाज का पूरा खर्च एमएसआरटीसी उठाएगा. राज्य के सूचना एवं जनसंपर्क महानिदेशालय ने देर रात किये ट्वीट में कहा कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने प्रशासन को हादसे में घायल लोगों को हर संभव मदद पहुंचाने का निर्देश दिए हैं.

तमिलनाडु में बारिश से तबाही, दीवार ढहने से 15 लोगों की मौत

मॉब लिंचिंग : झारखंड में 22 वीं मौत, बैटरी चोरी के आरोप में उतारा मौत के घाट

झारखंड विधानसभा: पहले चरण का मतदान शुरू, नक्सलियों ने पुल को उड़ाया

First published: 29 January 2020, 9:18 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी