Home » महाराष्ट्र न्यूज़ » Girl fought off Leopard with a Stick in Bhandara district Maharashtra
 

बकरी को बाघ से बचाने के लिए लिया 'दुर्गा' का अवतार, सोशल मीडिया पर सेल्फी की पोस्ट

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 April 2018, 15:18 IST

महाराष्ट्र के बांद्रा जिले में एक लड़की ने बहादुरी की मिसाल पेश की है. ये लड़की सिर्फ एक छड़ी के साथ ही बाघ से भिड़ गई. इस दौरान वो लहूलुहान हो गई. लेकिन उसने हिम्मत नहीं हारी. उसके बाद इसी हालत में बहादुर लड़की ने सेल्फी ली और इसे सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दिया.

रूपाली मेशराम कॉमर्स से ग्रेजुएट हैं और 21 साल की हैं. वो बांद्रा जिले के उजगाव गांव में रहती हैं. ये घटना 24 मार्च की रात की है. जब रूपाली और उनका परिवार गहरी नींद में सोया हुआ था. तभी उन्हें बकरियों के मिमयाने की आवाज आई. जिसे सुनकर रूपाली तुरंत बाहर आ गईं. उन्होंने देखा कि तीन बकरियां खून से लथपथ जमीन पर मरी पड़ी हैं.

इससे पहले वो कुछ समझ पाती एक खूंखार बाघ ने रूपाली पर हमला कर दिया. खुद को बाघ के चुंगल में फंसा देख रुपाली ने बचने के लिए एक छड़ी उठाई और मदद के लिए जोर से मां को आवाज लगाई. तब तक वह छड़ी से बाघ से लड़ती रही. जैसे ही उसकी मां मदद के लिए आई, बाघ ने उन पर भी हमला कर दिया. किसी तरह, रूपाली की मां ने अपनी घायल बेटी को घर में खींच कर दरवाजा बंद कर दिया.

उसके बाद उन्होंने अपने रिश्तेदार और वन विभाग को मामले की जानकारी दी. लेकिन घर के भीतर खुद को सुरक्षित महसूस करने के तुरंत बाद रूपाली ने खून से लथपथ चेहरे की एक के बाद एक कई सेल्फी ली और दो फोटो को फेसबुक पर पोस्ट किया.

एक फोटो में रुपाली अकेली दिखाई दे रही हैं और दूसरे में अपनी मां के साथ. तस्वीरों में दोनों खून से लथपथ नजर आ रही हैं. हालांकि, वन विभाग ने तुरंत रूपाली और उनकी मां को बांद्रा अस्पताल में भर्ती कराया और फिर उसके बाद नागरपुर में शिफ्ट किया. नागपुर में इलाज कर रहे डॉक्टर ने बाघ से लड़ने की साहस की प्रशंसा की.

वहीं वन विभाग ने घटनास्थल पर बाघ की गतिविधि नहीं देखाई देने की बात कही है. उन्होंने कहा कि यह हमला करने वाला जानवर तेंदुआ हो सकता है. इसके अलावा वन विभाग की ओर से रुपाली को 12 हजार रुपये मुआवजा के तौर पर दिया गया है.

ये भी पढ़ें- भिखारी को कूड़े में मिला क्रेडिट कार्ड और खूब सारा कैश, ...बन गया सबके लिए मिसाल

First published: 6 April 2018, 15:18 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी