Home » महाराष्ट्र न्यूज़ » Maharashtra Assembly adjourned on Friday due to a power outage
 

महाराष्ट्र विधानसभा में भरा पानी, सफाई की तो निकली बीयर और शराब की बोतलें

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 July 2018, 10:30 IST

महाराष्ट्र में बीजेपी की अगुआई वाली सरकार को तब बड़ी शर्मिंदगी का सामना करा पड़ा जब महाराष्ट्र विधानसभा में पहली बार बिजली नहीं होने के कारण विधानसभा की कार्रवाई स्थगित करनी पड़ी. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार पावर सप्लाई रूम में पानी भर जाने के कारण बिजली आपूर्ति बंद हो गई. लेकिन इससे शर्मनाक स्थिति का सामना तो तब करना पड़ा जब प्रशासन ने पानी निकासी के लिए कार्रवाई शुरू की.

ड्रेन की सफाई के दौरान इसमें बियर और शराब की बोतलें मिली. विधानसभा अध्यक्ष हरिभाऊ बागडे, जो खुद इस काम की निगरानी कर रहे थे, वह बोतलों को हटा दिए जाने के बाद मीडिया से बात किये बगैर चले गए.
शुक्रवार से नागपुर में भारी बारिश हुई और शहर के विभिन्न हिस्सों में जल भराव हो गया. सिविल लाइन क्षेत्र जहां विधायी इमारत स्थित है, वहां भी भारी पानी जमा हो गया. इस क्षेत्र में अधिकारियों और मंत्रियों के बंगले और विधायक / एमएलसी छात्रावास भी स्थित हैं."

यह राज्य के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ जब बिजली चले जाने से विधानसभा जो कार्रवाई स्थगित करनी पड़ी.
इस बीच सहयोगी शिवसेना ने भाजपा पर हमले के इस मौके को नहीं छोड़ा. शिवसेना ने कहा "जो लोग मुंबई निगम को घेरने के लिए हमेशा तैयार रहते हैं, उन्हें अब जवाब देना चाहिए कि नागपुर में आखिर पानी कैसे भर गया. अगर पानी भरने सेमुंबई के नागरिकों को दर्द होता है, तो यह नागपुर के नागरिकों को भी नुकसान पहुंचाता है''.

परिवहन मंत्री और वरिष्ठ सेना नेता दीवाकर रावत ने विधानसभा अध्यक्ष हरिभाऊ बागदे के साथ विधायी भवन परिसर का निरीक्षण किया, जिन्होंने स्वीकार किया कि प्रशासन द्वारा तैयारी की कमी थी. शुक्रवार को नागपुर शहर में रिकार्ड बारिश ने सामान्य जीवन को बुरी तरह प्रभावित किया. जिला प्रशासन के अनुसार सुबह 8 बजे से दोपहर 2.30 के बीच शहर को 267.5 मिमी बारिश हुई जो 24 वर्षों में सबसे ज्यादा थी.

ये भी पढ़ें : बिहार में बदहाल स्वास्थ्य व्यवस्था, एंबुलेंस न मिलने पर बाइक पर ले जाना पड़ा बच्चे का शव

First published: 7 July 2018, 10:27 IST
 
अगली कहानी