Home » महाराष्ट्र न्यूज़ » Maharashtra Security Force Jawan Sachin Pol saved a girl from falling under running train Railway Minister Piyush Goyal Share CCTV Video
 

Video: चीते जैसी फुर्ती दिखाकर जवान ने चलती ट्रेन से गिरी बच्ची की बचाई जान, रेल मंत्री ने की तारीफ

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 May 2018, 10:17 IST

लोगों की सुरक्षा के लिए रेलवे स्टेशनों पर रेलवे सुरक्षा बल के जवान हमेशा तैनात रहते हैं, जिससे किसी की जान ना जाए. बावजूद इसके कई बार तमाम यात्री हादसों का शिकार हो जाते हैं. हाल ही में मुंबई के महालक्ष्मी रेलवे स्टेशन पर भी ऐसा ही एक हादसा होते-होते बच गया. घटना का पूरा वीडियो वहां लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया. इस वीडियो को रेल मंत्री पीयूष गोयल ने अपने ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट किया है.

दरअसल, महालक्ष्मी रेलवे स्टेशन पर एक पांच साल की बच्ची अपने माता-पिता के भिवंडी जाने वाली ट्रेन के इंतजार में खड़ी थी. लोकल ट्रेन के आने के बाद बच्ची अपनी मां का हाथ पकड़कर ट्रेन में चढ़ने लगी. तभी अचानक ट्रेन चलने लगी और बच्ची का हाथ मां के हाथ से छूट गया. बच्ची ट्रेन और प्लेटफॉर्म के बीच में आने लगी.

तभी वहां खड़े महाराष्ट्र सिक्योरिटी फोर्स (होमगार्ड) के जवान सचिन पोल ने चीते जैसी फुर्ती दिखाई और बच्ची की ओर छलांग लगा दी और बच्ची को बचा लिया. सचिन ने ये सब सिर्फ 2-3 सैकेंड में कर दिया. इस घटना में बच्ची और बच्ची को बचाने वाले शख्स को मामलू चोटें आई हैं. अगर सचिन इतनी फुर्ती ना दिखाते तो बच्ची की जान जाना तय थी.

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने घटना का वीडियो अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर कर उस शख्स की तारीफ की है. उन्होंने ट्वीट कर कहा, 'सचिन पोल की बहादुरी और सूझबूझ से मुंबई के महालक्ष्मी रेलवे स्टेशन पर चलती ट्रेन की चपेट में आने से एक पांच साल की बच्ची को बचाया. हम सभी को महाराष्ट्र सुरक्षा बल के जवान की बहादुरी पर गर्व है.'

बता दें कि बच्ची के पिता मोहम्मद जीशान के मुताबिक वो अपनी पत्नी और बेटी के साथ हाजी अली दरगाह से आ रहे थे. ट्रेन आने पर वो और उनकी पत्नी तो ट्रेन में चढ़ गए, लेकिन अचानक ट्रेन चल देने से बच्ची का हाथ छूट गया. वो ट्रेन के नीचे आने ही वाली थी. तभी जवान सचिन पोल ने बला की फुर्ती दिखाई. गोली की रफ़्तार से वो बच्ची तक पहुंचे और उसके फिसलकर ट्रेन के नीचे जाने से पहले खींच लिया.

सचिन लोअर परेल के रहने वाले हैं. वो दो साल से मुंबई सिक्योरिटी फोर्स में काम कर रहे हैंवेस्टर्न रेलवे के चीफ सिक्योरिटी कमिश्नर ए के सिंह ने कहा है कि सचिन की बहादुरी काबिल--तारीफ है. इसके लिए उन्हें इनाम दिया जाएगा.

ये भी पढ़ें-

First published: 16 May 2018, 10:07 IST
 
अगली कहानी