Home » महाराष्ट्र न्यूज़ » MP Board Result 2018 Father celebrates Son Failure in 10th Exam
 

10वीं में बेटे के फेल होने का पिता ने मनाया शानदार जश्न, पंडाल लगाकर दी दावत

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 May 2018, 18:29 IST

क्या आप कभी परीक्षा में फेल हुए हैं? अगर हुए हैं तो आपको ये बात अच्छी तरह से पता होगी कि उस दिन घर आकर आपकी कैसी खातिरदारी हुई होगी. मां-बाप ने जमकर डांट लगाई होगी और हो सकता है कि पिटाई भी हुई हो, लेकिन मध्य प्रदेश में एक पिता शायद दुनिया के दूसरे पिताओं से अलग निकला और बेटे के परीक्षा में फेल होने की जमकर खुशी मनाई.

मामला मध्य प्रदेश के सागर जिले के शिवाजी वार्ड का है. जहां पेशे से ठेकेदार सुरेंद्र कुमार व्यास का बेटा 10वीं की परीक्षा में फेल हो गया. सुरेंद्र व्यास ने बेटे के फेल होने पर उसे ना डांटा और ना ही पिटाई की, बल्कि बेटे के फेल होने पर खुशियां मनाई. इसके लिए सुरेंद्र ने पूरे मोहल्ले में मिठाईयां बंटवाईं.

सिविल कॉन्ट्रैक्टर सुरेन्द्र कुमार व्यास के अचानक मोहल्ले वालों को पार्टी देने से लोगों आश्चर्यचकित रह गए. सुरेंद्र ने बकायदा शामियाना लगवाया और मिठाईयां बंटवाकर पटाखों छुड़ाए. लोगों को जब इस पार्टी की वजह पता चली तो सब चकित हो गए.

 

बेटे के फेल होने पर खुशियां मनाने के पीछे सुरेंद्र व्यास का कहना है कि, "इस पार्टी का मकसद अपने बेटे को प्रोत्साहित करना है. अक्सर ऐसा होता है कि परीक्षा में फेल होने के बाद बच्चे डिप्रेशन में चले जाते हैं और तो और कई बार अपनी जिंदगी समाप्त करने तक का कदम उठा लेते हैं. मैं ऐसे बच्चों को बताना चाहता हूं कि बोर्ड की परीक्षा ही जिंदगी की अंतिम परीक्षा नहीं होती है. जिंदगी में आगे बहुत सारे अवसर आते हैं. मेरा बेटा अगर फेल हुआ है तो वह अगले साल फिर से परीक्षा दे सकता है.”

वहीं दसवीं की परीक्षा में फेल होने वाले उनके बेटे आशु ने बताया कि, “ मैं अपने पिता के इस फैसले की सराहना करता हूं. मैं अब वादा करता हूं कि और भी मेहनत से पढ़ाई करते हुए अगले साल कहीं बेहतर नंबर लेकर आऊंगा. ”

बता दें कि आशु सरस्वती शिशु मंदिर में 10वीं क्लास में पढ़ता है और बोर्ड की परीक्षा में वह 6 में से चार विषयों में फेल हो गया था. अब आशु ने अपने पिता से वादा किया है कि वो 'रुक जाना नहीं योजना' का फॉर्म भरकर 4 विषयों को पढ़ाई फिर करेगा और 10वीं कक्षा पास करेगा. बता दें, 'रुक जाना नहीं योजना' के तहत फेल हुए स्टूडेंट फिर फॉर्म भरकर अपनी पढ़ाई पूरी कर सकते हैं. मध्य प्रदेश में इस साल ये परीक्षा परीक्षा 20 जून से शुरू होगी.

ये भी पढ़ें- Ramadan 2018: 17 मई से शुरु होगा रमजान का पाक महीना, सबसे लंबा होगा रोजे का ये दिन

First published: 15 May 2018, 18:03 IST
 
अगली कहानी