Home » महाराष्ट्र न्यूज़ » Sharad Pawar said- no role of the state government in breaking Kangna's office, BMC followed its rules
 

कंगना का दफ्तर तोड़ने में राज्य सरकार का कोई रोल नहीं, BMC ने अपने नियमों का पालन किया- शरद पवार

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 September 2020, 15:05 IST

बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत के दफ्तर पर बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) की कार्रवाई पर NCP प्रमख शरद पवार का कहना है कि इसमें राज्य सरकार की कोई भूमिका नहीं है. ANI के अनुसार पवार ने कहा कि राज्य सरकार का इसमें कोई रोल नहीं है. यह निर्णय बृहन्मुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) ने लिया था. बीएमसी ने अपने नियमों का पालन किया. उन्होंने कहा है कि ये महाराष्ट्र सरकार या किसी और का निर्णय नहीं बल्कि BMC का निर्णय है. इससे पहले शरद पवार ने कंगना के दफ्तर पर बीएमसी की कार्रवाई को गैर जरूरी बताया था.

कंगना रनौत का नाम लिए बगैर पवार ने कहा था "हम उन लोगों को ज़रूरत से ज़्यादा महत्व दे रहे हैं जो ऐसे बयान देते रहते हैं. हमें देखना चाहिए कि इन बयानों से आम लोगों पर क्या असर पड़ रहा है." उन्होंने कहा कि ''मुझे नहीं लगता लोग ऐसे लोगों के बयानों को गंभीरता से लेते हैं''.पवार ने कहा ने कहा था कि महाराष्ट्र और मुंबई के लोगों को ये समझने का सालों लंबा अनुभव है कि इस राज्य और शहर की पुलिस कैसे काम करती है. 


इस बीच महाराष्ट्र पूर्व CM और BJP नेता देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार को ऐसा लगता है कि महाराष्ट्र में उनकी लड़ाई कोरोना से नहीं बल्कि कंगना से है. मैं उनको कहना चाहूंगा कि आप जितनी क्षमता कंगना के पीछे लगा रहे उसमें से 50 प्रतिशत भी कोरोना के पीछे लगाएंगे तो शायद लोगों की जान बच पाएं''.

महाराष्ट्र में कंगना रनौत के मुद्दे पर राजनीति भी जारी है. आज केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने कहा कि मुंबई में कंगना रनौत के दफ्तर में जो तोड़फोड़ हुआ, उसी मुद्दे को लेकर मैं आज महाराष्ट्र के राज्यपाल से मिला और मांग की कि इस नुकसान का मुआवजा उन्हें मिलना चाहिए. जिस तरह से बीएमसी ने उनकी संपत्ति को तोड़ा है वह गलत है. कंगना को न्याय मिलना चाहिए.

कंगना रनौत ने अपना दफ्तर तोड़े जाने के मुद्दे पर अब कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी पर सीधा निशाना साधा है. कंगना ने एक ट्वीट के माध्यम से सोनिया गांधी की चुप्पी पर हमला बोला है. कंगना ने सोनिया गांधी से सवाल पूछते हुए कहा कि आपके राज में मुझे प्रताड़ित किया गया, क्या आपको एक महिला होकर पीड़ा नहीं हुई?

कंगना ने अब सोनिया गांधी पर बोला सीधा हमला, कहा- एक महिला होकर आपको पीड़ा नहीं हुई?

कंगना ने अपने ट्वीट में लिखा, "प्रिय आदरणीय कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी जी, एक महिला होने के नाते महाराष्ट्र में आपकी सरकार द्वारा मुझ पर की गई प्रताड़ना से क्या आप पीड़ित नहीं हैं? क्या आप डॉ. बाबासाहेब अंबेडकर द्वारा हमें दिए गए संविधान के सिद्धांतों को बनाए रखने के लिए अपनी सरकार से अनुरोध नहीं कर सकतीं?"

 कंगना ने शेयर किया बाला साहेब ठाकरे का ऐसा वीडियो, लिखा- आज उनको क्या महसूस हो रहा होगा?

First published: 11 September 2020, 14:58 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी