Home » महाराष्ट्र न्यूज़ » This Doctor from Pune Treats Poor and Baggers for Free
 

गरीबों के लिए मसीहा है यह डॉक्टर, भिखारियों का ढूंढ-ढूंढ कर करता है इलाज

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 May 2018, 15:57 IST

डॉक्टर्स की महंगी फीस देना हर किसी के बस की बात नहीं होती, इसीलिए लोग अक्सर झोलाछाप डॉक्टर्स से अपना इलाज कराते हैं. लेकिन महाराष्ट्र के पुणे में एक डॉक्टर गरीबों के लिए महीसा बना हुआ है. ये डॉक्टर ना तो गरीबों से फीस लेता बल्कि इलाज भी मुफ्त में करता है.

गरीबों के मसीहा इस डॉक्टर का नाम है अभिजीत सोनवाने. डॉक्टर अभिजीत गरीबों खासकर भिखारियों के बीच काफी मशहूर हैं. क्योंकि डॉक्टर अभिजीत न सिर्फ उनका फ्री में इलाज करते हैं, बल्कि दवाइयां भी उन्हें मुफ्त में देते हैं. डॉक्टर सोनवाने एक हफ्ते या एक महीने में एक बार नहीं करते बल्कि हर रोज ये काम करते हैं. वह रोजाना दवाइयों का अपना बैग उठाकर बीमार भिखारियों की तलाश में निकलते हैं और उनका इलाज करते हैं.

 

डॉक्टर सोनवाने कहते हैं कि, "मैं अक्सर बुजुर्ग बीमार लोगों से मिलता हूं जिन्हें उनके परिवार वाले छोड़ देते हैं और जिनके पास भीख मांगने के अलावा और कोई रास्ता नहीं होता. मैं जरूरी दवाइयां साथ लेकर चलता हूं. उनका इलाज करने के साथ-साथ मैं उन्हें दवाइयां भी मुफ्त में देता हूं." बता दें कि डॉक्टर अभिजीत ये काम रविवार को छोड़कर हर दिन करते हैं. वो सुबह 10 जे से लेकर दोपहर 3 बजे तक बीमार भिखारियों को ढूंढ-ढूंढकर उनका इलाज करते हैं.

डॉक्टर अभिजीत का मानना है कि यह समाज के लिए कुछ करने की उनकी छोटी सी कोशिश है, लेकिन इसके पीछे उनका एक बड़ा मकसद भी छिपा है. वह लोगों का इलाज करने के साथ-साथ उनसे बातचीत करते हैं. उनकी जिंदगी के बारे में सवाल करते हैं और कुछ अपनी बताते हैं. इस तरह वह अपने मरीजों से एक खास रिश्ता जोड़ लेते हैं.

यही नहीं डॉक्टर अभिजीत उन्हें समझाने की कोशिश भी करते हैं कि, भीख मांगना छोड़कर कोई छोटा-मोटा काम शुरू करें. डॉक्टर अभिजीत उन्हें काम-धंधे को लेकर अपनी तरफ से हरसंभव मदद करने का विश्वास भी दिलाते हैं.

ये भी पढ़ें- आयरलैंड: जनमत संग्रह के बाद गर्भपात पर लगा बैन हटा, इस भारतीय महिला की मौत बनी वजह

First published: 27 May 2018, 15:58 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी