Home » महाराष्ट्र न्यूज़ » Two Republic TV journalists arrested for entering Thackeray's farmhouse, the channel responded
 

CM ठाकरे के फार्महाउस में घुसने के आरोप में रिपब्लिक TV के दो पत्रकार गिरफ्तार, चैनल ने दी ये प्रतिक्रिया

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 September 2020, 11:47 IST

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के रायगढ़ जिले के खालापुर स्थित फार्महाउस में अवैध तरीके से घुसने के आरोप में टीवी चैनल रिपब्लिक के दो पत्रकारों सहित तीन लोगों को पुलिस ने बुधवार को गिरफ्तार कर लिया. एक रिपोर्ट के अनुसार टीवी चैनल ने पुलिस पर उनके रिपोर्टिंग करने के अधिकार को दबाने का आरोप लगाया है. रिपब्लिक का कहना है ''रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क के रिपोर्टर अनुज कुमार, वीडियो जर्नलिस्ट यशपालजीत सिंह और ओला कैब ड्राइवर प्रदीप दिलीप धनावड़े को महाराष्ट्र पुलिस ने गैरकानूनी तरीके से हिरासत में ले लिया. ये टीम एक स्टोरी के सिलसिले में सुराग का पता लगाते हुए रायगढ़ के कर्जत गई थी''.

चैनल ने कहा ''एक सुरक्षाकर्मी से पूछताछ करने पर हमारी टीम को 4 दिनों के लिए जेल में डाल दिया गया, जोकि रिपोर्टिंग के हमारे अधिकार पर बड़ा प्रहार है. हैरानी की बात है कि रिपब्लिक की टीम को 4 दिनों के लिए जेल में भेजने के पहले कोई कानूनी मदद भी नहीं दी गई.'' रायगढ़ पुलिस ने बुधवार को एक बयान में कहा कि तीन संदिग्ध व्यक्तियों ने मंगलवार शाम करीब 7.30 बजे अवैध रूप से परिसर में प्रवेश किया, जिसके बाद उन्होंने फार्महाउस के सुरक्षा गार्ड को धमकी दी. तीनों को खालापुर की एक अदालत के समक्ष पेश करने के बाद 14 सितंबर तक पुलिस हिरासत में भेज दिया गया.


कंगना के दफ्तर पर BMC की कार्रवाई को NCP प्रमुख शरद पवार ने भी बताया गैर-जरूरी

पुलिस ने कहा कि इस मामले में शिकायतकर्ता फार्महाउस में सुरक्षा गार्ड है. वह रात की ड्यूटी पर था तभी कार में बैठे तीन लोगों ने उसे ठाकरे के फार्महाउस के बारे में पूछा पुलिस ने कहा कि गार्ड ने उनके इरादों को भांपकर उन्हें जानकारी नहीं दी. पुलिस ने कहा कि कुछ देर बाद तीनों फार्म हाउस पर पहुंचे, गेट पर गार्ड को देखा, उसके कमरे में घुस गए और उसके साथ हाथपाई की.

रायगढ़ के एसपी अनिल पारस्कर ने कहा उनमें से दो एक समाचार चैनल से जुड़े हैं और मुंबई से आए थे. हमने अदालत में अपनी बात प्रस्तुत की और तदनुसार, उन्हें पुलिस हिरासत में भेज दिया गया.” चैनल ने कहा ''ये घटना बताती है कि पहले की तरह एक बार फिर महाराष्ट्र सरकार एक बार फिर रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क को रोकना चाहती है. हमारे रिपोर्टर के खिलाफ की गई कार्रवाई नि:संदेह रूप से दुर्भावनापूर्ण है. निम्न बातों से महाराष्ट्र सरकार की मंशा साफ पता चल रही है''

महाराष्ट्र के गृह मंत्री को फोन पर मिली धमकी, कंगना रनौत से जुड़े विवाद पर दिया था बयान

First published: 10 September 2020, 10:30 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी