Home » अन्य खेल » France beat Croatia by 4-2 and clinch the Golden trophy of FIFA World Cup 2018
 

क्रोएशिया को हराकर फ्रांस ने जीता FIFA World Cup 2018 का खिताब, कुछ ऐसा था फाइनल का रोमांच

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 July 2018, 8:37 IST
(FIFA World Cup)

FIFA World Cup 2018 का समापन कल देर रात हो गया. लुजनिकी स्टेडियम में खेले गए फुटबॉल के सबसे बड़े टूर्नामेंट के फाइनल में क्रोएशिया का सामना फ्रांस से था. इस खिताबी भिडंत में फ्रांस ने बाजी मार चमचमाती ट्रॉफी क्रोएशिया से छीन फिर से इतिहास रच दिया.

फ्रांस ने फीफा वर्ल्ड कप के फाइनल में क्रोएशिया को 4-2 से मात देकर इस खिताब के 21वें संस्करण पर कब्जा जमा लिया. बता दें कि फीफा वर्ल्ड कप में फ्रांस की यह दूसरी जीत है. इससे पहले फ्रांस अपनी ही मेजबानी में साल 1998 में विजेता बनी थी. अब 20 साल के बाद फिर से फ्रांस ने इस ट्रॉफी को कब्जाया है.

वहीं, पहली बार फीफा वर्ल्ड कप का फाइनल खेलने वाली क्रोएशियाई टीम को हार का सामना करना पड़ा. दरअसल, इस फाइनल मैच का पहला गोल ही आत्मघाती साबित हुआ, जिसमें क्रोएशिया के मारियो मांडजुकिक अपने ही गोलपोस्ट में गेंद मार बैठे. इस तरह फ्रांस ने शुरुआत में ही क्रोएशिया पर 1-0 की बढ़त ले ली.

हालांकि, इवान पेरिसिक ने 28वें मिनट में एक गोल दाग क्रोएशिया को 1-1 की बराबरी पर ला दिया था. लेकिन इसके बाद फिर से फ्रांस का पलटवार देखने को मिला. इसके बाद मैच के 38वें मिनट में फ्रांस को पेनल्टी मिली, जिसे उसके स्टार खिलाड़ी एंटोनी ग्रीजमैन ने गोल में तब्दील कर अपनी टीम को 2-1 से आगे कर दिया. 

यही कारण था कि मैच का पहला हाफ फ्रांस के पक्ष में गया, जिसमें फ्रांस 2-1 से आगे रही. वहीं, दूसरे हाफ में पॉल पोग्बा ने 59वें मिनट में बॉक्स के बाहर से गेंद को नेट में डाल फ्रांस को 3-1 की शानदार बढ़त दिला दी, जो आगे चलकर जीत में तब्दील हुई.

पोग्बा के गोल करने के छह मिनट बाद ही फ्रांस के कीलियन एम्बाप्पे ने भी एक गोल कर टीम को 4-1 से आगे कर दिया. क्रोएशिया के मांडजुकिक ने फ्रांस के गोलकीपर ह्यूगो लोरिस की गलती का फायदा उठाकर अपनी टीम के लिए दूसरा गोल किया. लेकिन इसके बाद क्रोएशिया कोई गोल नहीं कर पाया.

ऐसे में फ्रांस की टीम वर्ल्ड चैंपियन बनकर उभरी. आपको बता दें, दोनों टीमें 4-2-3-1 के संयोजन के साथ मैदान पर उतरीं. क्रोएशिया ने इंग्लैंड की खिलाफ सेमीफाइनल में जीत दर्ज करने वाली शुरुआती एकादश में कोई बदलाव नहीं किया, तो फ्रांसीसी कोच डिडियर डेसचैम्प्स ने अपनी रक्षापंक्ति को मजबूत करने पर ध्यान दिया.

First published: 16 July 2018, 8:37 IST
 
अगली कहानी