Home » अन्य खेल » india's best performance in CWG 2018 in Gold Coast, india's athlete begs 66 medal with 26 gold medal
 

CWG 2018: 'गोल्ड' से गोल्ड ही गोल्ड लाए भारतीय, अब ओलंपिक की बारी

अंकुल कौशिक | Updated on: 16 April 2018, 12:21 IST

ऑस्ट्रेलिया में आयोजित 21वें कॉमनवेल्थ खेलों में भारत कॉमनवेल्थ 2018 की मेडल टैली में तीसरे नंबर पर रहा, भारत ने कुल 16 खेलों में हिस्सा लिया. भारतीय खिलाड़ियों ने 21वें कॉमनवेल्थ खेलों में 66 पदक अपने देश के नाम किए, जिनमें 26 स्वर्ण, 20 रजत और 20 कांस्य पदक शामिल हैं.

इन खेलों में भारत की और से 218 एथलीट ने भाग लिया था जिसमें 103 खिलाड़ी महिला वर्ग से और 115 खिलाड़ी पुरुष वर्ग से थे, महिला खिलाड़ियों ने 12 स्वर्ण पदक और पुरुष खिलाडियों ने 14 स्वर्ण पदक जीते. इन खेलो में आस्ट्रेलिया 80 स्वर्ण, 59 रजत और 59 कांस्य के साथ पहले स्थान पर तथा इंग्लैंड 45 स्वर्ण, 45 रजत और 46 कांस्य के साथ दूसरे स्थान पर रहा.

ये हैं खिलाडियों के नाम व मेडल

निशानेबाजी-

निशानेबाजी में भारत के  कुल 27 खिलाड़ी थे, जिसमें 12 महिला और 15 पुरुष खिलाड़ी थे. भारतीय निशानेबाजों यहां पर सात स्वर्ण पदक समेत कुल 16 पदक जीते. अगर पुरुष वर्ग की बात करें तो पुरुषों के 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में जीतू राय और 25 मीटर रैपिड फायर पिस्टल स्पर्धा में अनीष भानवाल ने स्वर्ण पदक जीता. वहीं जीव राजपूत ने 50 मीटर राइफल-3 पोजीशन स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता.

वहीं भारत की महिला निशानेबाजों ने भी चार स्वर्ण पदक पर कब्जा किया. निशानेबाजी में महिलाओं की 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में 16 साल की मनु भाकेर ने स्वर्ण जीता. हीना सिद्धू ने 25 मीटर पिस्टल और तेजस्विनी सावंत ने 50 मीटर राइफल-3 पोजीशन स्पर्धा में स्वर्ण जीता, जबकि श्रेयसी सिंह ने डबल ट्रैप स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता. 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में 17 वर्षीय मेहुली घोष ने रजत पदक हासिल किया और अंजुम मोदगिल ने 50 मीटर राइफल-3 पोजीशन और तेजस्विनी सावंत ने 50 मीटर राइफल प्रोन स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता.

भारत के ओम मिथरवाल ने पुरुषों की 10 मीटर एयर पिस्टल एवं 50 मीटर पिस्टल स्पर्धा में कांस्य पदक जीता, वहीं रवि कुमार ने 10 मीटर एयर राइफल और अंकुर मित्तल ने डबल ट्रैप स्पर्धा में कांस्य पदक जीता . महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में अपूर्वी चंदेला ने का कांस्य पदक जीता.

एथलेटिक्स

एथलेटिक्स में भारत के  कुल 28 खिलाड़ी थे, जिसमें 12 महिला और 16 पुरुष खिलाड़ी थे. इस स्पर्धा में नवजीत ढिल्लन ने कांस्य जीता और नीरज चोपड़ा ने भाला फेंक में ऐतिहासिक स्वर्ण जीता. वहीं सीमा पुनिया ने गोला फेंक में रजत पदक हासिल किया.

मुक्केबाजी

मुक्केबाजी में भारत के कुल 12 खिलाड़ी  थे, जिसमें 4 महिला और 8 पुरुष खिलाड़ी थे. मुक्केबाजी में भारत ने 9 पदक जीते, जिसमें 3 स्वर्ण और 3 रजत व 3 कांस्य शामिल हैं. पुरुष वर्ग में गौरव सोलंकी ने 52 किलोग्राम भारवर्ग में स्वर्ण पदक जीता और विकास कृष्ण ने भी 75 किलोग्राम भारवर्ग में स्वर्ण पदक जीता.

वहीं महिला वर्ग में  45-48 किलोग्राम भारवर्ग में  मैरी कॉम ने स्वर्ण पदक  जीता, इसके साथ ही पुरुष वर्ग में सतीश कुमार ने 91 किलोग्राम भारवर्ग में रजत पदक जीता. अमित ने 46-49 किलोग्राम और मनीष कौशिक ने 60 किलोग्राम भारवर्ग में रजत पदक अपने नाम किया, वहीं हुसामुद्दीन मोहम्मद ने पुरुषों के 56 किलोग्राम भारवर्ग और मनोज कुमार ने 69 किलोग्रा भारवर्ग में कांस्य पदक हासिल किया. इसके साथ ही नमन तंवर ने 91 किलोग्राम भारवर्ग में कांस्य पदक जीता.

स्क्वॉश
स्क्वॉश में भारत के कुल  6 खिलाड़ी थे, जिसमें 2 महिला और 4 पुरुष खिलाड़ी थे. स्क्वॉश में महिला वर्ग की युगल स्पर्धा में दीपिका पल्लीकल कार्तिक एवं जोशना चिनप्पा और मिश्रित युगल स्पर्धा में दीपिका एवं सौरव घोषाल की जोड़ी ने रजत पदक जीता.

बैडमिंटन

बैडमिंटन में भारत के कुल 10 खिलाड़ी थे, जिसमें 5 महिला और 5 पुरुष खिलाड़ी थे. बैडमिंटन में भारत के लिए सायना नेहवाल ने महिला वर्ग में स्वर्ण जीता, वहीं मिश्रित टीम स्पर्धा में भी भारत को एक स्वर्ण पदक मिला. अगर पुरुष वर्ग की बात करें तो सात्विक रेंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी ने रजत जीता, महिला वर्ग में पीवी सिंधु ने रजत पदक जीता . एन. सिक्की रेड्डी और अश्विनी पोनप्पा की जोड़ी ने महिला वर्ग में कांस्य पदक जीता.

पैरा पावरलिफ्टिंग
पैरा पावरलिफ्टिंग में भारत कुल  4 खिलाड़ी थे, इस खेल में भारत को सिर्फ 1 कांस्य पदक मिला है.
टेबल टेनिस
टेबल टेनिस में भारत के कुल 12खिलाड़ी  थे, इस खेल में भारत को सिर्फ 1 स्वर्ण पदक मिले.
मनिका बत्रा- स्वर्ण पदक

भारोत्तोलन
भारोत्तोलन में भारत के कुल 16 खिलाड़ी थे, इस खेल में भारत को सिर्फ 5 स्वर्ण पदक मिले.
सतीश कुमार शिवलिंगम
वेंकट राहुल रगला
मीराबाई चानू  
संजीता चानू
पूनम यादव

कुश्ती
कुश्ती में भारत के कुल 12 खिलाड़ी  थे, इस खेल में भारत को सिर्फ 5 स्वर्ण पदक मिले.
सुमित   
राहुल अवारे   
बजरंग पुनिया   
सुशील कुमार   
विनेश फोगाट

बता दें कि इससे पहले साल 2014 में ग्लसगो में हुए राष्ट्रमंडल खेलों में भारत अंक तालिका में पांचवें नंबर पर था. भारत ने ग्लासगो में टोटल 64 पदक जीते थे, जिसमें 15 स्वर्ण, 30 रजत, 19 कांस्य शामिल थे. वहीं साल 2010 में दिल्ली में हुए राष्ट्रमंडल खेलों में भारत अंक तालिका में दूसरें नंबर पर था. भारत ने दिल्ली में टोटल 101 पदक जीते थे जिसमें 38 गोल्ड , 27 रजत, 36 कांस्य शामिल थे.

इन प्रदर्शनों को देखते हुए खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौर ने सभी खिलाडियों को बधाई दते हुए कहा, " कॉमनवेल्थ 2018 में सभी एथलीटों ने शानदार प्रदर्शन किया है, इस खेल से आपने यह सिद्ध किया कि भारत में प्रतिभा की कोई कमी नहीं है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के समर्थन और मार्गदर्शन से हम सभी के साथ है, यह रिजल्ट खेलो इंडिया जैसे खेल का एक परिणाम है."

First published: 16 April 2018, 12:21 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी