Home » अन्य खेल » US Open 2020: Novak Djokovic disqualified after accidentally striking a female lines judge with ball
 

US Open 2020: नोवाक जोकोविच ने गुस्से में टेनिस कोर्ट में कर दिया ऐसा काम, रेफरी ने पूरे टूर्नामेंट से किया बाहर

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 September 2020, 11:25 IST

कोरोना वायरस महामारी के बाद कई दिशा-निर्देशों के बीच यूएस ओपन खेला जा रहा है. कयास लगाए जा रहे थे कि कोरोना काल के बाद पहला ग्रैंड स्लैम नोवाक जोकोविच जीत सकते थे, क्योंकि रफाल नडाल और रोजर फ़ेडरर जैसे दिग्गज खिलाड़ी महामारी के कारण ही खेल से दूर हैं. 18वें ग्रैंड स्लैम के लिए खेल रहे नोवाक जोकोविच को एक गलती की भारी कीमत चुकानी पड़ी और उन्हें अयोग्य घोषित कर दिया गया था.

दरअसल, जोकोविच ओपनिंग सेट में पाब्लो केरोनो बस्टा से पीछे चल रहे थे और सर्विस ड्रॉप होने के बाद वो निराश थे. इसी दौरान उन्होंने एक गेंद को अपनी जेब से निकाला और हतासा में अपने पीछे मार दिया. इस दौरान वो दूसरी तरफ देख रहे थे. हालांकि, यह गेंद सीधे लाइन्सवुमन जज को लगी. यह गेंद सीधे महिला जज के गले में जाकर लगी जिसके बाद वो नीचे बैठ गई और उन्हें सांस लेने में तकलीफ हो रही थी. जोकोविच को जैसे ही यह एसहास हुआ, वो सीधे महिला जज के पास पहुंचे और उन्होंने उनकी पीठ पर हाथ थपथाप उन्हें बेहतर करने की कोशिश की. बताया जा रहा है कि उन्हें इस दौरान माफी भी मांगी थी.


 

ईएसपीएन स्पोर्ट्स के मुताबिक, इस घटना के बाद मैच अधिकारियों के बीच हुई एक लंबी चर्चा के बाद जोकोविच को अयोग्य घोषित कर दिया गया. बता दें, ग्रैंड स्लैम में इस तरह का नियम है कि कोई खिलाड़ी किसी अधिकारी या दर्शक को चोटिल करता है तो उस पर जुर्माना लगाने के साथ ही उसे अयोग्य करार दिया जाता है.

यूनाइटेड स्टेट्स टेनिस एसोसिएशन ने अपने एक बयान में कहा है,"ग्रैंड स्लैम नियम पुस्तिका के अनुसार, उन्हें जानबूझकर किसी को गेंद से या किसी ख़तरनाक तरीके से मारने या कोर्ट के भीतर लापरवाही से खेलने या परिणामों को गंभीरता से नहीं लेने के कारण यूएस ओपन के रेफ़री द्वारा 2020 यूएस ओपन से बाहर कर दिया गया है. चूंकि उन्हें अयोग्य घोषित कर दिया गया है तो जोकोविच यूएस ओपन में हासिल किये अपने सभी रैकिंग प्वाइंट्स भी खो देंगे और उन्हें टूर्नामेंट में जीते गए मैच की पुरस्कार राशि को जुर्माने के तौर पर देना होगा साथ ही इस अपमानजनक घटना के लिए भी उन्हें जुर्माना देना होगा."

First published: 7 September 2020, 11:17 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी