Home » राजनीति » 95 candidates with criminal and 277 are crorepatis in karnetaka congress in on top with 48 candidates
 

कर्नाटक: इस पार्टी ने सबसे ज्यादा दिए अपराधियों और करोड़पतियों को टिकट

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 April 2018, 12:07 IST

कर्नाटक विधानसभा के लिए अगले महीने होने वाले चुनाव के लिए सभी पार्टियों ने अपनी ताकत छोंक दी है. इसी बीच उम्मीदवारों की घोषणा भी शुरु हो गई है. लेकिन पार्टियों ने अपने सभी उम्मीदवारों के नाम की घोषणा नहीं की है. जिनमें मुख्य पार्टी कांग्रेस, बीजेपी और जनता दल सेकुलर शामिल हैं.

इन तीनों पार्टियोॆं ने अभी तक जिन नामों की घोषणा की है. उससे लगता है कि इस बार कर्नाटक विधानसभा में अपराधियों और करोड़पतियों का बोलबाला होने वाला है. तीनों पार्टियों के ज्यादातर उम्मीदवार करोड़पति हैं. इसके साथ ही उनमें से एक तिहाई ऐसे हैं जिनके खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं.

कांग्रेस के 32 फीसदी उम्मीदवारों के खिलाफ गंभीर मामले

कर्नाटक के चुनाव मैदान में उतारे गए उम्मीदवारों की पृष्ठभूमि की जांच एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स नाम की संस्था ने की है. जिसमें चौकाने वाले आंकड़े सामने आए हैं. इस जांच में संस्था के मुताबिक सबसे ज्यादा अपराधी छवि के उम्मीदवारों को कांग्रेस ने चुनाव मैदान में उतारा है. कांग्रेस के 32 फीसदी उम्मीदवारों के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं. कांग्रेस ने अभी तक जिन 218 उम्मीदवारों की घोषणा की है. उनमें से 23 ऐसे हैं जिनके खिलाफ गंभीर मामलों में अपराधिक मुकदमे दर्ज हैं.

वहीं करोड़पति उम्मीदवारों की सूची में भी कांग्रेस सबसे आगे है. कांग्रेस ने 91 फीसदी करोड़पति उम्मीदवारों को चुनाव मैदान में उतारा है. अगर सभी उम्मीदवारों की संपत्ति को जोड़कर देखा जाए तो कांग्रेस के उम्मीदवारों की औसत संपत्ति 28 करोड़ रुपये से ऊपर है.

वहीं अपराधियों को टिकट देने के मामले में जनता दल सेक्युलर दूसरे नंबर पर है. जनता दल सेक्युलर के 126उम्मीदवारों में से 29 फीसदी के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं. इनमें से नौ उम्मीदवारों के खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं. इस पार्टी ने 79 प्रतिशत करोड़पतियों को अपना उम्मीदवार बनाया है.

बीजेपी के उम्मीदवारों के खिलाफ आपराधिक मुकदमे

कर्नाटक विधानसभा के लिए चुनाव मैदान में उतार गए बीजेपी उम्मीदवारों में 27 फीसदी अपराधी छवि वाले हैं. जिनके खिलाफ आपराधिक मामलों में मुकदमे दर्ज हैं. इनमें से 19 उम्मीदवार ऐसे हैं जिनके खिलाफ गंभीर अपराधों के मुकदमे दर्ज हैं. बता दें कि बीजेपी ने अभी तक 154 उम्मीदवारों की ही घोषणा की है.

इन तीनों पार्टियों के कुल आपराधिक छवि वाले उम्मीदवारों को देखा जाए तो स्थिति ज्यादा अच्छी नहीं है. क्योंकि तीनों पार्टियों ने 16 फीसदी ऐसे उम्मीदवारों को टिकट दिया है जिनके खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज है.

ये भी पढ़ें- महाभारत काल में चल रहे इंटरनेट के नाम का हुआ खुलासा, तब लोग इसे 'अंतरनेत्र' कहते थे

First published: 19 April 2018, 12:07 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी