Home » राजनीति » AAP Conflict: Shazia Ilmi's interesting tweet on Kumar Vishwas
 

शाज़िया इल्मी ने कुमार विश्वास को याद दिलाया 3 साल पुराना ट्वीट

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 May 2017, 12:13 IST
(ट्विटर)

आम आदमी पार्टी में कुमार विश्वास को लेकर मचे घमासान के बीच उनकी पुरानी साथी शाजिया इल्मी ने एक दिलचस्प ट्वीट किया है. दरअसल 2014 में शाज़िया इल्मी ने आम आदमी पार्टी को छोड़कर भाजपा का दामन थाम लिया था. उस वक़्त कुमार विश्वास ने शाज़िया पर तंज कसा था. अब तीन साल बाद शाज़िया ने लोकपाल आंदोलन के दौरान अपने साथी रहे कुमार विश्वास को इसकी याद दिलाई है. 

शाज़िया ने 24 मई 2014 के कुमार विश्वास के ट्वीट को रीट्वीट किया है. शाज़िया ने ट्विटर पर लिखा, "जब मैंने पार्टी छोड़ी थी तो कुमार विश्वास ने ये कहा था. ख़ुद आपदा में छोड़कर जा रहे हैं अरविंद केजरीवाल को. कैसे मित्र हैं." दरअसल कुमार विश्वास ने रामचरित मानस की एक चौपाई के जरिए इल्मी पर निशाना साधते हुए कहा था, "धीरज धर्म मित्र अरु नारी! आपद्काल परखिए चारी!"

ट्विटर

आप का विवाद गहराया

दरअसल एमसीडी चुनाव में हार के बाद से आम आदमी पार्टी में सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है. कुमार विश्वास ने कहा था कि जनता से संवाद न कर पाने और पार्टी में कमियों की वजह से हार हुई, जबकि आप के शीर्ष नेता दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कहा था कि ईवीएम की वजह से पार्टी चुनाव हारी. 

कुमार विश्वास ने ये भी कहा था कि सर्जिकल स्ट्राइक पर सबूत मांगते हुए पीएम मोदी पर निशाना साधना ग़लत था. इसके बाद आप के ओखला विधायक अमानतुल्लाह खान ने कुमार विश्वास पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि वे पार्टी को तोड़ने की साजिश रच रहे हैं. अमानतुल्लाह ने आरोप लगाया कि एक आप विधायक को 30-30 करोड़ का लालच देकर भाजपा में शामिल कराए जाने का ऑफर मिल रहा है.

इसके बाद कुमार विश्वास आम आदमी पार्टी की राजनैतिक मामलों की समिति (पीएसी) की बैठक में नहीं शामिल हुए थे. आप ने अमानतुल्लाह को उनके बयान के बाद पीएसी से हटा दिया था. हालांकि कुमार विश्वास कह रहे हैं कि अमानतुल्लाह तो महज एक चेहरा हैं, उनके पीछे साजिश किसी और की है. मंगलवार रात को केजरीवाल, मनीष सिसोदिया और संजय सिंह ने कुमार विश्वास को मनाने की भी कोशिश की.

फाइल फोटो
First published: 3 May 2017, 12:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी