Home » राजनीति » Congress names Adhir Ranjan Chowdhury as its leader in Lok Sabha: Reports
 

राहुल गांधी के इंकार के बाद कांग्रेस इस नेता को बनाएगी विपक्ष का नेता

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 June 2019, 15:32 IST

मंगलवार को कांग्रेस पार्टी ने अधीर रंजन चौधरी को लोकसभा में अपना नेता नामित किया है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा भूमिका लेने से इनकार करने के बाद चौधरी को लोकसभा में कांग्रेस का नेता नामित किया गया है. कांग्रेस संसदीय रणनीति समूह ने आज सुबह यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी के आवास पर मुलाकात की.

अधीर रंजन चौधरी भी एके एंटनी, जयराम रमेश, गुलाम नबी आज़ाद, आनंद शर्मा, पी चिदंबरम और के सुरेश सहित अन्य नेताओं के अलावा बैठक में शामिल थे. राहुल गांधी कांग्रेस संसदीय रणनीति समूह की बैठक में भी शामिल हुए. माना जाता है कि कांग्रेस अध्यक्ष के रूप में जारी रखने के लिए अनिच्छा से सहमत होने के बाद राहुल ने प्रमुख पद नहीं लेने के लिए कहा था.

लोकसभा चुनाव परिणामों की घोषणा के बाद कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में राहुल ने इस्तीफा देने की पेशकश की थी और पार्टी के शीर्ष पद से मुक्त होने का आग्रह किया था.

Video: ओवैसी के शपथ के दौरान संसद में लगे 'जय श्री राम' के नारे तो AIMIM चीफ ने हाथों से किए ऐसे इशारे

विपक्ष के नेता के पद के लिए 55 सदस्यों की हिस्सेदारी की आवश्यकता होती है जो कांग्रेस के पास नहीं है. 2014 में कांग्रेस को इस पद से वंचित कर दिया गया था जब वह सिर्फ 44 सीटें पाने में सफल रही थी. इसने अप्रैल-मई के राष्ट्रीय चुनावों में 543 सदस्यीय लोकसभा में 52 सीटें जीतीं है.

एक पार्टी को लोकसभा की शक्ति के दसवें सदस्य 55 की आवश्यकता होती है. इस मुद्दे पर 2014 में चर्चा हुई थी जब कांग्रेस ने इस पद के लिए कहा था. तब स्पीकर सुमित्रा महाजन ने अटॉर्नी जनरल से भी राय मांगी थी.

 

First published: 18 June 2019, 15:16 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी