Home » राजनीति » Akhilesh Yadav: BSP and Bjp Joint in UP
 

अखिलेश यादव: यूपी में बसपा और भाजपा मिले हुए हैं

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 December 2016, 11:10 IST
(एएनआई)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने समाजवादी पार्टी के खिलाफ बहुजन समाज पार्टी और भारतीय जनता पार्टी पर मिलीभगत का आरोप लगाया.

अखिलेश यादव ने बसपा पर भाजपा से मिलीभगत करने का आरोप लगाते हुए बुधवार को कहा कि पिछले लोकसभा चुनाव में अपना वोट भाजपा के खाते में डलवाने वाली बसपा के लगभग सभी बड़े नेता अपना-अपना वोट लेकर भाजपा में जा चुके हैं, इसलिए यह पार्टी लड़ाई में बहुत पीछे छूट गई है.

अखिलेश ने नोएडा-ग्रेटर नोएडा नगर बस सेवा के उद्घाटन के अवसर पर दोहराया कि बसपा ने पिछले लोकसभा चुनाव में सपा को नुकसान पहुंचाने के लिए अपना वोट भाजपा को दिलवा दिया था.

उन्होंने कहा कि समाज में ऐसे भी लोग होते हैं, जो दूसरे का नुकसान करने के लिए अपना कितना भी नुकसान करने को तैयार रहते हैं.

सपा और भाजपा की सांठगांठ के बसपा मुखिया मायावती के आरोपों पर पलटवार करते हुए सीएम अखिलेश ने कहा, "भाजपा की वजह से बसपा हम पर आरोप लगा रही है. बसपा के लोग भाजपा के साथ मिले हुए हैं. यह आरोप (भाजपा से मिलीभगत का) हम पर क्यों लगेगा. हमने तो काम किया है. इतना काम किसी और सरकार ने नहीं किया होगा."

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, "हमारा बसपा से मुकाबला नहीं है, क्योंकि लड़ाई में बसपा बहुत पीछे छूट गई है. उसकी भाईचारा कमेटियों के भाइयों का क्या हुआ. वे तो सब भाजपा में चले गये. कोई नहीं बचा. सोचिये कि उन्हीं का वोट भाजपा में चला गया, लेकिन वह (मायावती) गुमराह करना चाहती हैं. समाजवादियों को लड़ाई में कमजोर करना चाहती हैं."

कांग्रेस से गठबंधन की हिमायत के अपने बयान पर मायावती द्वारा उठाए गए सवाल पर अखिलेश ने कहा, "मेरी लाइन बिल्कुल साफ है. शायद मायावती समझ नहीं पायीं कि वैसे तो सपा बहुमत की सरकार बना रही है, लेकिन अगर गठबंधन हो जाए तो 300 सीटों से ज्यादा जीत जाएंगे. गठबंधन का सबसे ज्यादा फायदा हमें ही होगा."

इसके साथ ही मोदी सरकार के नोटबंदी पर हमला करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा, "जिस समय कालेधन, भ्रष्टाचार और जाली नोट पर सर्जिकल स्ट्राइक की बात की गयी थी, उस वक्त कैशलेस इकोनॉमी की बात नहीं हुई थी. भाजपा के लोग समय-समय पर सर्जिकल स्ट्राइक बदलते रहेंगे. पहले सीमा पर सर्जिकल स्ट्राइक की, उसमें असफल रहे, यह जो नया मामला आया है उसमें भी असफल रहे. इसलिए आपको सावधान रहना होगा."

First published: 15 December 2016, 11:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी