Home » राजनीति » Akhilesh Yadav: Yogi Government fails to control Mathura dont recall our government
 

'मथुरा को आप नहीं संभाल पा रहे हमारी याद मत दिलाना'

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 May 2017, 16:56 IST
अखिलेश यादव के ट्विटर पेज से साभार

यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री और सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मथुरा कांड को लेकर योगी सरकार पर तंज कसा है. मथुरा में सोमवार रात दो सर्राफा कारोबारियों की बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी. वारदात के बाद 4 करोड़ रुपये के गहने लूट लिए गए थे.

लूट और हत्या की इस वारदात के खिलाफ शुक्रवार से सूबे के ज्वैलर्स हड़ताल पर हैं. ज्वैलर्स की मांग है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को ज्वैलर्स की सुरक्षा सुनिश्चित करनी चाहिए. 

विधानसभा में अखिलेश यादव ने मथुरा कांड पर कहा, "यह सरकार कानून व्यवस्था के मुद्दे पर पिछड़ गई है. मथुरा को आप नहीं संभाल पा रहे है. हमारी सरकार की याद मत दिलाना, ये आपकी सरकार है." 

जवाहर बाग का ख़ूनी संघर्ष

अखिलेश यादव के कार्यकाल के दौरान मथुरा के जवाहर बाग इलाके में कब्जे को लेकर रामवृक्ष यादव का मामला यूपी की सियासत में काफ़ी गरमाया था. जून 2016 में जवाहरबाग में पुलिस और कब्जाधारकों के बीच खूनी संघर्ष में एसपी सिटी मुकुल द्विवेदी और एसओ संतोष यादव समेत 24 लोगों की मौत हो गई थी.

एसपी सिटी मुकुल द्विवेदी की मौत कब्जाधारियों के चारों ओर से घेरकर लाठी-डंडों के हमले से हुई थी. बाद में रिपोर्ट आई कि कथित सत्याग्रहियों का सरगना रामवृक्ष यादव भी झड़प के दौरान मारा गया. मामले की सीबीआई जांच चल रही है.

पत्रिका

मंत्री श्रीकांत शर्मा पर भड़का था परिवार

सोमवार रात को मथुरा में दो कारोबारियों की हत्या के बाद पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा और डीजीपी सुलखान सिंह को परिवार वालों की नाराज़गी झेलनी पड़ी थी.

घटना के बाद परिवार के दर्द पर मरहम लगाने पहुंचे श्रीकांत शर्मा और डीजीपी सुलखान सिंह को काफ़ी विरोध का सामना करना पड़ा. पीड़ित परिजनों ने मंत्री से कहा कि वे लोग वारदात के वक्त पुलिस को फोन करते रहे, लेकिन मौका-ए-वारदात पर कोई नहीं पहुंचा. इस दौरान मंत्री को खूब खरी-खोटी सुनाई गई. 

मथुरा में क्या हुआ था?

मथुरा के कोयला गली इलाके में सोमवार रात दो ज्वैलर्स से 4 करोड़ के गहने लूट लिए थे. ज्वैलरी शॉप मयंक चेन्से के प्रोपराइटर विकास अग्रवाल (30) और डैम्पीयर नगर निवासी मेघ अग्रवाल (34) की हथियारबंद बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी.

सीएम योगी आदित्यनाथ ने घटना की जांच के आदेश दिए हैं. फायरिंग में जख्मी विकास अग्रवाल के छोटे भाई मयंक अग्रवाल, कारीगर अशोक साहू और एक अन्य कामगार महमूद अली का इलाज चल रहा है. वारदात की तफ्तीश के लिए पुलिस की पांच टीमें बनाई गई हैं. इस घटना को लेकर प्रदेश के ज्वैलर्स में काफ़ी नाराज़गी देखी जा रही है.

मथुरा में ज्वैलर्स की हत्या के बाद परिजनों से मिलने पहुंचे मंत्री श्रीकांत शर्मा और डीजीपी सुलखान सिंह को नाराजगी झेलनी पड़ी थी.
First published: 19 May 2017, 16:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी