Home » राजनीति » Anandpal Encounter: Sachin Pilot says rajasthan government is responsible for anandpal village violence
 

आनंदपाल एनकाउंटर: 'लोगों को लड़ाकर मज़े लूट रही है वसुंधरा सरकार'

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 July 2017, 15:23 IST

राजस्थान के कुख्यात गैंगस्टर आनंदपाल के एनकाउंटर में मारे जाने के बाद राजपूताना यानी राजस्थान की राजपूत राजनीति गरमाई हुई है. इस मामले पर कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट ने बयान दिया हैै.

सचिन पायलट ने आनंदपाल मामले मे सांवरदा गांव में उपजे तनाव के लिए राज्य सरकार को जिम्मेदार ठहराया है. उन्होंने अपने सागवाड़ा दौरे के दौरान मीडिया से रूबरू होते हुए कहा, "अगर सरकार मृतक आनंदपाल के परिजनों की मांगों पर कोई सकारात्मक कदम उठाती तो आज सांवरदा में ऐसे हालात उत्पन्न नहीं होते, लेकिन सरकार कुछ करने की जगह लोगों को आपस में लड़ाकर मजे लूट रही है."

'चुनावी लाभ चाहती है भाजपा'

सचिन ने कहा कि पिछली भाजपा सरकार में भी राज्य में गोलियां, लाठियां चलीं और समाजों को आपस में लड़ाया था. उन्होंने भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा प्रदेश में अमन-चैन और शांति नहीं चाहती, बल्कि ऐसे हालात पैदा कर चुनावी लाभ लेना चाहती है.

बुधवार को आनंदपाल सिंह के लिए आयोजित श्रद्धांजलि सभा के बाद राजपूत समाज के लोगों ने हिंसक प्रदर्शन किया. प्रदर्शनकारियों ने पुलिस की एक गाड़ी फूंक दी और एक रेलवे ट्रैक भी उखाड़ दिया. एनकाउंटर की सीबीआई जांच समेत चार मांगों को लेकर श्रद्धांजलि सभा हिंसक प्रदर्शन में तब्दील हो गई. झड़प के दौरान नागौर के एसपी पारिस देशमुख भी जख्मी हो गए. दो अन्य पुलिसकर्मी लापता बताए जा रहे हैं.

24 जून को हुआ था एनकाउंटर

24 जून की देर रात कुख्यात गैंगस्टर आनंदपाल को राजस्थान पुलिस ने चूरू के मालासर में मुठभेड़ के दौरान मार गिराया था. ज़िंदा रहते गैंगस्टर ने पुलिस की नाक में दम किया हुआ था, वहीं अब एनकाउंटर के 19 दिन बाद भी गैंगस्टर की मौत राजस्थान पुलिस के लिए गले की हड्डी बनी हुई है. उसके शव का अब तक अंतिम संस्कार नहीं हो सका है. 

First published: 13 July 2017, 15:23 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी