Home » राजनीति » Delhi CM alleges that after PMO's instruction Delhi police detained him and other leaders
 

केजरीवाल: पीएमओ के इशारे पर मुझे, मनीष और राहुल गांधी को पकड़ा गया

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:45 IST
(पीटीआई)

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आरोप लगाया कि दिल्ली पुलिस ने उन्हें, डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को पूर्व सैनिक रामकिशन ग्रेवाल के परिजनों से नहीं मिलने और उन्हें हिरासत में लेने का फैसला प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) से मिले निर्देश पर किया.

दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने यह बात बीजेपी के सांसद और मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर सत्यपाल सिंह के उस बयान पर कही, जिसमें सत्यपाल सिंह ने कहा था कि दिल्ली पुलिस मामले को सही ढंग से संभाल नहीं पाई.

इस मामले में केजरीवाल ने ट्वीट किया है, "महोदय, यह न तो दिल्ली पुलिस का और न ही गृह मंत्रालय का काम है, बल्कि बुधवार को तो प्रधानमंत्री कार्यालय हालात की निगरानी कर रहा था. उन्होंने इसे बुरे तरीके से संभाला."

इससे पहले मुंबई पुलिस के पूर्व कमिश्नर और बागपत से बीजेपी के सांसद सत्यपाल सिंह ने समाचार एजेंसी एएनआई को बयान दिया था कि दिल्ली पुलिस को स्थिति से बेहतर ढंग से निपटना चाहिए था, लेकिन उसने गलत ढंग से हालात संभालने की कोशिश की. 

गौरतलब है कि 'वन रैंक वन पेंशन' को लागू कराने के मुद्दे पर आत्महत्या कर चुके पूर्व सैनिक रामकिशन ग्रेवाल के परिजनों से बुधवार को दिल्ली के सीएम केजरीवाल, डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने मिलने की कोशिश की तो तीनों को दिल्ली पुलिस ने कई घंटों तक हिरासत में रखा था.

इसके अलावा दिल्ली पुलिस पर आरोप है कि उसने मृत सैनिक रामकिशन ग्रेवाल के परिजनों से भी मारपीट की. शुक्रवार शाम को भी राहुल गांधी को थोड़ी देर के लिए पुलिस ने हिरासत में लिया था. 

First published: 4 November 2016, 3:30 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी