Home » राजनीति » Atal Bihari Vajpayees Death but Jaswant Singh not know about this tragedy
 

अटल बिहारी वाजपेयी के इस खासमखास को अभी तक नहीं बताई गई उनके निधन की खबर

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 August 2018, 15:46 IST

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का 16 अगस्त को एम्स में निधन हो गया. उनका शुक्रवार को अंतिम संस्कार किया गया. अटल बिहारी वाजपेयी 93 साल के थे. आज उनकी अस्थियों को हरिद्वार में गंगा में प्रवाहित कर दिया गया. लेकिन तीन दिन बीत जाने के बाद भी उनके एक खासमखास को इस बात की खबर नहीं है. वह खासमखास अटल सरकार में मंत्री भी रह चुके हैं.

बता दें कि अटल सरकार में विदेश और वित्त मंत्री रहे जसवंत सिंह को अभी तक इस बात की खबर नहीं है कि अटल बिहारी वाजपेयी का निधन हो गया है. वह इस समय बीमार हैं उन्हें अभी तक वाजपेयी की मौत के बारे में नहीं बताया गया है. यह खुलासा खुद जसवंत सिंह के बेटे मानवेंद्र सिंह ने किया है. एक निजी टीवी चैनल को लिखे ब्लॉग में मानवेंद्र ने बताया कि वह अभी तक अपने पिता को नहीं बता पाए हैं कि अटल जी अब इस दुनिया में नहीं रहे.

पढ़ें- हरिद्वार: अटल बिहारी वाजपेयी हर की पौड़ी के ब्रह्मकुंड मेें हुए लीन, अस्थियां गंगा में प्रवाहित

मानवेंद्र ने लिखा, "उनके पिता लंबे समय से बीमार हैं इसलिए उन्हें अटल जी की मौत के बारे में नहीं बताया गया है क्योंकि इससे उनके स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ सकता है. मानवेंद्र ने लिखा, "जिन्ना पर लिखी किताब पर दिए गए बयान के बाद जब पिताजी को पार्टी से निकाला गया तो वो वाजपेयी जी ही थे जिन्होंने पिताजी को न सिर्फ फोन कर बुलाया बल्कि इस फैसले के खिलाफ गुस्सा भी जताया. वाजपेयी जी ने उस समय जो मेरे पिताजी से कहा था उसे सार्वजनिक नहीं कर सकता."

पढ़ें- उत्तराखंड: हरिद्वार में अटल की अंतिम कलश यात्रा, शाह-राजनाथ समेत हजारों BJP कार्यकर्ता शामिल

वाजपेयी सरकार में विदेश मंत्री और वित्तमंत्री रहे जसवंत सिंह कुछ साल पहले हुए ब्रेन हैमरेज के बाद कोमा में चले गए हैं और इसके बाद से ही वह लगातार डॉक्टरों की निगरानी में हैं. वहीं पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियों को आज हर की पौड़ी के ब्रह्मकुंड में विसर्जित कर दिया गया है. उनके परिवार ने उनकी अस्थियों को गंगा में विसर्जित किया. हरिद्वार के ब्रह्मकुंड में बेटी नमिता ने अपने पिता वाजपेयी की अस्थियों का विसर्जन किया. इस मौके पर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, गृह मंत्री राजनाथ सिंह और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मौजूद रहे.

First published: 19 August 2018, 15:46 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी