Home » राजनीति » Azam Khan's Controversial statement on security forces: Three complaints registered against SP leader in Rampur, Lucknow and Bijnor
 

शहीदों पर शर्मनाक बयान, आज़म के ख़िलाफ़ UP के तीन शहरों में शिकायत दर्ज

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 July 2017, 13:08 IST
आज़म ख़़ान/ फाइल फोटो

सुरक्षाबलों के ख़िलाफ़ विवादित बयान देने के मामले में समाजवादी पार्टी के नेता आज़म ख़ान की मुश्किल बढ़ गई है. यूपी के रामपुर में एक कार्यक्रम के दौरान आज़म ने सेना पर कथित रूप से आपत्तिजनक टिप्पणी की थी. यूपी के अलग-अलग शहरों में इस मामले में तीन शिकायतें दर्ज हुई हैं. 

सपा नेता के निर्वाचन क्षेत्र रामपुर के सिविल लाइंस पुलिस स्टेशन में इस बयान को लेकर शिकायत दर्ज हुई है. इसके साथ ही यूपी के बिजनौर में आज़म खान के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई गई है. यही नहीं सूबे की राजधानी लखनऊ के हजरतगंज थाने में भी यूपी के पूर्व कैबिनेट मंत्री के ख़िलाफ़ शिकायत दर्ज हुई है.

क्या था आज़म का बयान? 

रामपुर में एक कार्यक्रम के दौरान आज़म ने कहा, "दहशतगर्द फौज के प्राइवेट पार्ट्स काटकर साथ ले गए. उन्हें हाथ से शिकायत नहीं थी, सिर से नहीं थी, पैर से नहीं थी, जिस्म के जिस हिस्से से उन्हें शिकायत थी, वे उसे काटकर ले गए. यह इतना बड़ा संदेश है, जिस पर पूरे हिंदुस्तान को शर्मिंदा होना चाहिए और सोचना चाहिए कि हम दुनिया को क्या मुंह दिखाएंगे?" 

आज़म का ये बयान ऐसे वक्त में सामने आया, जब छत्तीसगढ़ के सुकमा में हुए नक्सली हमले में शहीद सुरक्षाकर्मियों के प्राइवेट पार्ट्स काटने की खबरें सामने आई थीं. इस हमले में सीआरपीएफ के 25 जवान शहीद हुए थे. आज़म ने बाद में अपने बयान पर सफ़ाई देते हुए कहा था कि उन्होंने अख़बार में छपी रिपोर्ट के हवाले से यह बात कही थी.

First published: 1 July 2017, 13:03 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी