Home » राजनीति » Sudip Bandyopadhyay: They won't release me before the budget session gets ove
 

रोजवैली चिटफंड घोटाला: TMC सांसद सुदीप बंदोपाध्याय की रिमांड 6 दिन बढ़ी

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:37 IST
(फाइल फोटो)

तृणमूल कांग्रेस के सांसद सुदीप बंदोपाध्याय की सीबीआई रिमांड छह दिन के लिए बढ़ गई है. टीएमसी सांसद को तीन जनवरी को पूछताछ के बाद सीबीआई ने रोजवैली चिटफंड घोटाले में गिरफ्तार कर लिया था. 

जांच एजेंसी ने सोमवार को सुदीप बंदोपाध्याय को भुवनेश्वर की अदालत में पेश किया. अदालत ने उनकी रिमांड की मियाद बढ़ा दी है. इस बीच टीएमसी सांसद ने कहा है कि मुझे तब तक नहीं रिहा किया जाएगा, जब तक कि बजट सत्र पूरा नहीं हो जाएगा.

केंद्र बनाम ममता बनर्जी

इससे पहले सीबीआई ने इसी मामले में टीएमसी के एक अन्य सांसद तपस पाल को 30 दिसंबर 2016 को पूछताछ के बाद कोलकाता में गिरफ्तार कर लिया था. तपस पाल रोजवैली चिटफंड में डायरेक्टर के पद पर थे.

टीेएमसी ने सीबीआई की इस कार्रवाई को बदले की भावना करार दिया था. टीएमसी का कहना है कि केंद्र सरकार जांच एजेंसियों का दुरुपयोग कर रही है. अपने सांसदों की गिरफ्तारी से नाराज ममता बनर्जी ने प्रदर्शन का एलान किया था. दिल्ली में प्रदर्शन के दौरान टीएमसी के 32 सांसदों को हिरासत में भी लिया गया था.

टीएमसी का आरोप है कि नोटबंदी के खिलाफ आवाज उठाने से केंद्र सरकार बेवजह उनके सांसदों को परेशान कर रही है. गौरतलब है कि सीबीआई सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर रोज वैली कंपनी के चिट फंड घोटाले की जांच कर रही है. कंपनी पर निवेशकों के कई हजार करोड़ रुपये ठगने का आरोप है. घोटाले के तार बंगाल से लेकर ओडिशा तक जुड़े हैं.

First published: 9 January 2017, 4:46 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी