Home » राजनीति » Bihar: Big shock to BJP Upendra Kushwaha going in RJD camp tell about kheer formula
 

बिहार: लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा को लगेगा तगड़ा झटका! RJD के साथ गठबंधन करेगी ये सहयोगी पार्टी

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 August 2018, 9:56 IST

बिहार से बीजेपी के लिए बड़ा झटका लग सकता है. साल 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले एनडीए में सहयोगी और मोदी सरकार में केंद्रीय मंत्री राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (आरएलएसपी) के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने आरजेडी के नेतृत्व में पनप रहे महागठबंधन में शामिल होने के संकेत दिए हैं.

दरअसल, उपेंद्र कुशवाहा ने बीपी मंडल की जयंती पर इशारे ही इशारे में राजद के साथ जाने की बात कही है. शनिवार को पटना में आयोजित कार्यक्रम में उपेन्द्र कुशवाहा ने खीर बनाने की एक विधि बताई. उन्होंने बताया कि यादव का दूध और कुशवाहा का चावल मिलायें तो दुनिया का सबसे स्वादिष्ट खीर तैयार होगा.

पढ़ें- अस्थि कलश यात्रा: वाजपेयी की अस्थि विसर्जन के दौरान नदी में गिरे बीजेपी सांसद-विधायक समेत पुलिस के आला अफसर

वह यहीं नहीं रुके.. फिर उन्होंने अपनी पार्टी के ब्राह्मण नेता शंकर झा आज़ाद की ओर इशारा करते हुए कहा कि ये चीनी मिलाएंगे और दलित नेता भूदेव चौधरी की तरफ देखकर कहा ये उसमें तुलसी डालेंगे. इसके बाद कुशवाहा ने कहा कि अगर यह समीकरण एक साथ हो जाये तो राज्य की सत्ता पर काबिज हो सकते हैं. बता दें कि इस सम्मेलन में कुशवाहा की पार्टी के कई नेताओं ने उन्हें मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बनाने की मांग की है.

पढ़ें- 2019 के लिए राहुल गांधी ने बनाई नई टीम, जानिए किसको मिली कौन सी जिम्मेदारी ?

साथ ही कुशवाहा ने अन्य पिछड़ी जातियों को भी साथ में जोड़ने की बात कही. उन्होंने कहा, "यहां बहुत बड़ी संख्या में यदुवंशी समाज के लोग जुटे हैं. यदुवंशियों का दूध और कुशवाहों का चावल मिल जाए तो खीर बनने में देर नहीं.... लेकिन खीर बनाने के लिए केवल दूध और चावल ही नहीं बल्कि छोटी जाति और दबे-कुचले समाज के लोगों का मंचमेवा भी चाहिए."

पढ़ें- जब रवींद्र नाथ टैगोर ने रक्षाबंधन के दम पर रोका था बंंगाल का विभाजन, ब्रिटिश हुकूमत को किया था पराजित

वहीं कुशवाहा के इस बयान के बाद सत्तारूढ़ जेडीयू ने उन्हें निशाने पर लिया है. जेडीयू के एक वरिष्ठ नेता ने केंद्रीय मंत्री पर निशाना साधते हुए कहा, "कुशवाहा जानते हैं कि वह नीतीश कुमार के कद को नहीं पा सकते. यही वजह है कि वह उनसे द्वेष रखते हैं और चर्चा में बने रहने के लिए इस तरह की बयानबाजी करते हैं."

First published: 26 August 2018, 9:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी