Home » राजनीति » Bihar CM Nitish kumar on one nation one election, its is not possible
 

नीतीश कुमार ने एक देश एक चुनाव पर पीएम मोदी को दिया झटका, बोले- ये असंभव है

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 August 2018, 15:44 IST

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने एक राष्ट्र एक चुनाव के मुद्दे पर प्रधानमंत्री मोदी के विपरीत जाकर अपने विचार रखे. एक राष्ट्र एक चुनाव के मुद्दे पर नीतीश कुमार ने कहा, ''इस चुनाव में ये संभव नहीं है कि लोकसभा और विधानसभा के चुनाव एक साथ किये जाएं. ये संभव नहीं है. वैचारिक रूप से तो ये सही है.''

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी इस बार के लोकसभा और विधानसभा चुनाव एक साथ कराने के पक्ष में हैं. लेकिन इस मामले में देश की अन्य बड़ी पार्टियों में मतभेद है. कांग्रेस ने एक राष्ट्र एक चुनाव के मुद्दे पर अभी तक कोई औपचारिक बयान जारी नहीं किया है. वहीं सपा का मानना है कि बीजेपी अगर एक साथ चुनाव चाहती है तो 2019 लोकसभा चुनाव से ही इसे लागू करे. वहीं चुनाव आयोग का कहना है कि वह एक साथ चुनाव करवाने में सक्षम है, बशर्ते कानूनी रूपरेखा और लॉजिटिक्स दुरुस्त हो.

सुब्रहमण्यम स्वामी: सिद्धू पाकिस्तान जाएंगे तो लोग उन्हें गद्दार समझेंगे, कभी नहीं करेंगे माफ

 इसके पहले ही मुख्य चुनाव आयुक्त ने एक राष्ट्र एक चुनाव के आयोजन में असमर्थता दिखाते हुए कहा था कि ये चुनाव कराना समभाव नहीं है. इससे मोदी सरकार को बड़ा झटका लगा है. मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त ओम प्रकाश रावत ने कहा है कि एक देश, एक चुनाव फिलहाल संभव नहीं है क्योंकि कानून अभी इजाजत नहीं देता. रावत ने कहा कि कानूनी संशोधन के बाद ही एक साथ चुनाव संभव है. देश में 11 राज्यों में एक साथ चुनाव की संभावना फिलहाल नहीं दिखती.

मोदी सरकार को बड़ा झटका, मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा- 'एक देश एक चुनाव' संभव नहीं

सारी विपक्षी पार्टियां इसका विरोध कर रही हैं. इसे लेकर लॉ कमीशन ने सारी पार्टियों से राय मांगी थी. तब ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी, वामदल, आईयूएमएल, एआईएडीएमके, गोवा फॉरवर्ड पार्टी ने इसका विरोध किया था.

First published: 14 August 2018, 15:39 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी