Home » राजनीति » Bihar: Hardik patel meet CM Nitish kumar
 

बिहार: नीतीश से मिले हार्दिक पटेल, गुजरात आने का दिया न्योता

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 December 2016, 11:51 IST
(कैच)

गुजरात में पाटीदार आंदोलन के नेता और पटेल नवनिर्माण सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष हार्दिक पटेल बीते मंगलवार को बिहार की राजधानी पटना पहुंचे.

हार्दिक पटेल ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के आवास पर जाकर उनसे मुलाकात की. सीएम से मुलाकात के दौरान हार्दिक ने उन्हें 28 जनवरी को सौराष्ट्र में आयोजित होने वाले किसान सम्मेलन में भाग लेने का न्योता दिया, जिसे मुख्यमंत्री ने तुरंत स्वीकार कर लिया.

मुलाकात के बाद हार्दिक पटेल ने नीतीश सरकार के द्वारा बिहार में लागू की गई शराबबंदी को एक ऐतिहासिक अौर सार्थक कदम बताया.

मुख्यमंत्री से मिलने के बाद पत्रकारों से चर्चा करते हुए पाटीदार नेता ने कहा कि बिहार में शराबबंदी का कानून लागू है, जो मुख्यमंत्री के द्वारा उठाया गया एक ऐतिहासिक कदम है.

उन्होंने इसके लिए मुख्यमंत्री की सराहना करते हुए कहा, "शराबबंदी कर उन्होंने राज्य में सामाजिक परिवर्तन किया है. बिहार की जनता आज काफी खुश है. लोगों में खुशहाली और प्रेम का माहौल देखने को मिल रहा है."

पटेल नेता हार्दिक से मुलाकात के बाद जनता दल (यूनाइटेड) के महासचिव के.सी. त्यागी ने बताया कि गुजरात के अलावा मुख्यमंत्री महाराष्ट्र और राजस्थान का भी दौरा करेंगे.

उन्होंने बताया कि हार्दिक ने मुख्यमंत्री से मुलाकात के दौरान अंतरंग बातों में नीतीश को वर्ष 2019 लोकसभा चुनाव में विपक्ष का नेता बताया.

त्यागी ने कहा कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और हार्दिक पटेल कई चुनावी जनसभाओं में हिस्सा लेंगे.

सीएम से मिलने से पूर्व जब हार्दिक पटना हवाई अड्डे पर पहुंचे, तो उनके समर्थकों ने भव्य स्वागत किया. वह हवाईअड्डे से लालबत्ती लगी एंबेस्डर कार में बैठकर मुख्यमंत्री आवास पहुंचे.

गौरतलब है कि गुजरात के पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने अक्टूबर में नीतीश कुमार को पाटीदार आरक्षण आंदोलन का समर्थन करने के लिए गुजरात आने का न्योता दिया था.

हार्दिक ने मुख्यमंत्री के नाम भेजे अपने पत्र में कहा था, "हमारा समाज गुजरात में पाटीदार, महाराष्ट्र में मराठा, राजस्थान में गुर्जर और दक्षिण भारत में कापू कम्मा रेड्डी के नाम से जाना जाता है. हमारा समाज आरक्षण के अपने संवैधानिक अधिकार की मांग कर रहा है."

वहीं सीएम नीतीश कुमार ने भी जनता दल (यूनाइटेड) की राजगीर में हुई राष्ट्रीय परिषद की बैठक में पाटीदारों (पटेल), मराठों, गुर्जरों और जाटों के आरक्षण की मांग को जायज ठहराया था.

First published: 14 December 2016, 11:51 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी