Home » राजनीति » BJP claims, 17 RSS workers died in 17 month of CPM rule
 

भाजपा का दावा- केरल में 17 महीने में 17 आरएसएस कार्यकर्ता मारे गए

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 August 2017, 17:20 IST

भारतीय जनता पार्टी के सदस्यों ने बुधवार को लोकसभा में केरल में राजनीतिक कारणों से हुई हत्याओं का मुद्दा उठाया और राज्य में माकपा नेतृत्व वाले वाम मोर्चा की अतिसक्रियता को इसके लिए जिम्मेदार ठहराया.

भारतीय जनता पार्टी के सांसद प्रहलाद जोशी ने शून्य काल के दौरान कहा, "केरल में वाम मोर्चा के 17 महीनों के कार्यकाल में 17 लोग मारे जा चुके हैं."

जोशी ने कहा, "कांग्रेस कार्यकर्ता भी मारे गए हैं, लेकिन वे उनके साथ दिल्ली में साठगांठ कर रहे हैं और केरल में लड़ रहे है." भाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी ने राजनीतिक हिंसा के कथित पीड़ितों नामों की सूची पढ़ी. 

उन्होंने कहा, "ये उन लोगों के नाम हैं, जो केरल में राजनीति से प्रेरित हत्याओं के शिकार हुए. असहिष्णुता और लोकतंत्र पर भाषण देने वाले लोकतंत्र में वैकल्पिक विचारधाराओं को बर्दाश्त नहीं कर सकते."

उन्होंने कहा, "इस्लामिक स्टेट (आईएस) में शामिल होने वाले भी मुख्य रूप से इसी राज्य से आते हैं." उन्होंने कहा, "जब भाजपा कार्यकर्ता मारे जाते हैं, तब हम आवाज उठाते हैं. अन्य तो आवाज भी नहीं उठाते. राजनीति हत्या करने का लाइसेंस नहीं देती."

First published: 2 August 2017, 17:20 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी