Home » राजनीति » BJP MP Meenakshi Lekhi could not write Swachh Bharat in Hindi trolled on social media
 

भाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी को हिंदी में 'स्वच्छ' लिखना नहीं आता!

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 June 2017, 11:54 IST
भाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी और पेट्रोलियम राज्यमंत्री धर्मेंद्र प्रधान/ ट्विटर

एक तरफ़ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वच्छ भारत अभियान की मुहिम का झंडा उठाए देश भर में लोगों को जागरूक कर रहे हैं, वहीं दूसरी ओर उन्हीं की पार्टी के जनप्रतिनिधि कुछ ऐसा कर रहे हैं, जिसका मज़ाक भी बन रहा है.

दरअसल नई दिल्ली सीट से भाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है. इस तस्वीर में मीनाक्षी लेखी स्वच्छ भारत, स्वस्थ भारत लिखती नज़र आ रही हैं. हालांकि व्हाइट बोर्ड पर मीनाक्षी रेड मार्कर पेन से स्वच्छ की जगह सवच्छ लिखती दिख रही हैं. इस तस्वीर में उनके साथ पेट्रोलियम राज्यमंत्री धर्मेंद्र प्रधान भी हैं. 

इस तस्वीर को सोशल मीडिया पर ट्रोल किया जा रहा है. एक ट्विटर यूजर मनीष कुमार ने लिखा, "भाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी हिंदी में स्वच्छ भारत नहीं लिख सकतीं. ओह माई गॉड. क्या वह सच में इतनी मूर्ख हैं?"

प्रवाल गुप्ता ने ट्वीट किया, "ख़ुद के सांसदों को 'स्वच्छ' लिखना नहीं आता वो क्या भारत को स्वच्छ बनाएंगे?" गौरतलब है कि मीनाक्षी लेखी ने दिल्ली यूनिवर्सिटी के हिन्दू कॉलेज से पढ़ाई की है. इसके साथ ही वह सुप्रीम कोर्ट की मशहूर वकील हैं. यही नहीं वो भाजपा की प्रवक्ता भी रह चुकी हैं.

द नेशनलिस्ट नाम से ट्वीट किया गया, "भाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी को ये नहीं पता कि हिंदी के शब्द कैसे लिखे जा सकते हैं और ये लोग भारत में हिंदी थोपना चाहते हैं."

डॉक्टर रवि मीणा ने मीनाक्षी लेखी से जुड़ी स्टोरी का लिंक ट्वीट करते हुए लिखा, "मीनाक्षी लेखी की डिग्री की भी जांच होनी चाहिए."

श्रीराज केसरिया ने ट्वीट किया, "आरएसएस, भाजपा और नरेंद्र मोदी दक्षिण भारतीयों पर हिंदी थोपना चाहते हैं, जबकि उनकी सांसद मीनाक्षी लेखी को नहीं पता कि हिंदी कैसे लिखते हैं."

स्वस्थ सारथी अभियान की तस्वीर

बताया जा रहा है कि सोशल मीडिया पर वायरल हुई यह तस्वीर 27 जून की है, जब नई दिल्ली से सांसद मीनाक्षी लेखी इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड के एक कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंची थीं. इस दौरान लेखी के साथ केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, केंद्रीय मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन और दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी भी मौजूद थे.

इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड ने इसे 'स्वस्थ सारथी अभियान' नाम दिया था, जिसका मकसद वाहनों को प्रदूषण मुक्त बनाने के साथ ही ड्राइवरों को स्वस्थ रखना है. इस अभियान के लिए मीनाक्षी लेखी ने बोर्ड पर स्वच्छ भारत, स्वस्थ भारत की जगह 'सवस्थ भारत, सवच्छ भारत' लिख डाला.

First published: 29 June 2017, 11:54 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी