Home » राजनीति » Bring law to punish those who call Indian Muslims Pakistani Says asaduddin owaisi AIMIM president in Lok Sabhaasaduddin owais
 

असदुद्दीन ओवैसी: मुस्लिमों के हक में बने कानून, पाकिस्तानी कहने पर हो 3 साल की सज़ा

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 February 2018, 12:45 IST

AIMIM के अध्यक्ष और हेदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने मंगलवार को लोकसभा में मुस्लिमों के हक में कानून बनाने की मांग की है. न्यूज़ एजेंसी एनआई के मुताबिक मंगलवार को लोकसभा में बोलते हुए उन्होंने ये मांग की. ओवैसी ने कहा कि भारतीय मुसलमानों को पाकिस्तानी कहने वालों को 3 सजा की सजा होनी चाहिए. 

ओवैसी ने ये मांग बरेली के डीएम के हालिया फेसबुक पोस्ट पर की जो उन्होंने कासगंज हिंसा के बाद लिखी थी. डीएम ने कहा था कि आजकल ये ट्रेंड बन गया कि कुछ लोग मुस्लिम मोहल्लों में घुसकर एंटी पाकिस्तान के नारे लगाते हैं और हंमामा खड़ा करते हैं.

ओवेसी ने इस पर चिंता जताते हुए लोकसभा में कहा, "केंद्र सरकार ऐसा कानून लाए, जिसमें किसी मुस्लिम को अगर कोई व्यक्ति पाकिस्तानी कहे, तो उस व्यक्ति को तीन साल की सजा मिले."

हालांकि उन्होंने ये भी कहा कि उन्होंने मालूम है कि केंद्र में शासित भाजपा सरकार ऐसा कोई विधेयक सदन में नहीं लाएगी. दरअसल राष्ट्रपति के अभिभाषण पर पेश किए गए धन्यवाद प्रस्ताव पर बहस के दौरान ओवैसी ने ये बातें कहीं. 

ओवैसी ने तील तलाक पर भी केंद्र सरकार को निशाने पर लेते हुए कहा कि ये बिल महिला विरोधी है. ये भारतीय मुसलमानों को जेल में डालने की साजिश है.

उन्होंने लोकसभा में बोलते हुए आगे कहा कि भारतीय मुसलमानों ने मोहम्मद अली जिन्ना की दो राष्ट्र वाली थ्योरी को पूरी तरह नकार दिया था. लेकिन आज भी देश में हमें बाहरी समझा जाता है.

गौरतलब है कि मार्च, 2016 में शिवसेना ने 'भारत माता की जय' बोलने से इंकार करने पर असदुद्दीन ओवैसी को जमकर लताड़ा था और 'पाकिस्तान चले जाओ' की सलाह दी थी. शिवसेना के मंत्री रामदास कदम ने ओवैसी पर निशाना साधते हुए कहा था, "ओवैसी को भारत में रहने का अधिकार नहीं है, क्योंकि वह उस देश का सम्मान नहीं करते, जिसने उन्हें बहुत कुछ दिया. उन्हें पाकिस्तान चले जाना चाहिए, या हम उन्हें इस मुल्क से बाहर निकाल देंगे."

ये भी पढ़ें- 'मुसलमान बांग्लादेश या पाकिस्तान जाएं, यहां उनका क्या काम है'

First published: 7 February 2018, 12:45 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी