Home » राजनीति » BSP chief Mayawati says Congress are getting arrogant, rules out tie-up for Rajasthan and Madhya Pradesh elections 2018
 

मायावती का कांग्रेस को झटका: MP-राजस्थान में गठबंधन से इनकार, कांग्रेस बोली- गुस्से में लिया गया फैसला

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 October 2018, 18:37 IST
(file photo )

बीएसपी प्रमुख मायावती ने कांग्रेस को बड़ा झटका दिया है. मायावती ने आगामी मध्य प्रदेश और राजस्थान विधान सभा चुनाव में कांग्रेस के साथ गठबंधन से साफ इनकार कर दिया है. बीएसपी ने अकेले चुनाव लड़ने का ऐलान किया है. मायावती ने इसके लिए कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह को जिम्मेदार ठहराया है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस के अंदर दिग्विजय सिंह जैसे कई नेता है जो नहीं चाहते हैं कि मध्य प्रदेश के विधानसभा चुनाव में हमारा कांग्रेस के साथ गठबंधन हो. बता दें कि दिग्विजय सिंह के आरोपों के बाद मायावती ने पलटवार किया है.

मीडिया खबरों के मुताबिक, मायावती ने कहा कि कांग्रेस के नेताओं को दंभ है कि वो अकेल चुनाव लड़कर बीजेपी को हराने में कामयाब हो जाएंगे. लेकिन सच्चाई ये है कि कांग्रेस की गलतियों और भ्रष्टाचार को जनता भूली नहीं है. इससे ऐसा लगता है कि कांग्रेस अपनी गलतियों को सुधारना नहीं चाहती है. कांग्रेस के नेताओं को पता ही नहीं है कि क्या करना चाहिए. कांग्रेस के खिलाफ माहौल है. लेकिन कांग्रेस के नेताओं की बीजेपी को परास्त करने में रुचि नहीं दिख रही है. अगर कांग्रेस की हालत यही रही तो एक सुनहरा मौका गंवा दिया जाएगा.


बीएसपी सुप्रीमों ने कहा कि राहुल गांधी और सोनिया गांधी चाहते हैं कि वो बीएसपी के साथ चुनाव लड़े, लेकिन दुख की बात है कि कांग्रेस के ही नेता महागठबंधन की राह में रोड़ा बने हुए हैं.

मायावती ने दिग्विजय सिंह पर करारा हमला बोलते हुए कहा कि वह बीजेपी के एजेंट हैं. उनका ये कहना कि मायावती केंद्र सरकार के दबाव में है. उनको सीबीआई और ईडी का डर सता रहा है. उन्होंने कहा कि जो लोग बीएसपी के इतिहास के बारे में नहीं जानते हैं वो बीएसपी का इतिहास पढ़ लें.

कांग्रेस बोली, गुस्से में की गई टिप्पणी

वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस ने मायावती के हमले के बाद अपनी प्रतिक्रिया दी है. कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि मायावती ने गुस्से और भावनाओं बहकर ये बात कही है. हम इसको तूल नहीं देना चाहते हैं. अगर मायावती जी को राहुल गांधी और सोनिया गांधी पर भरोसा है तो सारी मुश्किलों को दूर कर लिया जाएगा. जो साथ चलेगा तो सही, जो हमारे साथ नहीं चलना चाहता, वो अपने अपने रास्ते चल सकते हैं.

आपको बता दें कि दिग्विजय सिंह ने हाल ही में एक समाचार पत्र को इंटरव्यू देते हुए मायावती पर हमला बोला था. उन्होंने कहा था कि मायावती केंद्र सरकार के दबाव में है. वह सीबीआई और ईडी से मायावती डरती हैं. इसी कारण कांग्रेस के साथ गठबंधन करने से डर रही हैं. उन्होंने कहा कि हम मायावती का सम्मान करते हैं और उनकी मजबूरी को भी समझते हैं.

ये भी पढ़ें- राहुल ने PM मोदी को बताया झूठा, कहा- प्रधानमंत्री जी देश से आंख मिलाकर बात नहीं कर सकते

First published: 3 October 2018, 18:33 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी