Home » राजनीति » Congress demands probe into allegations of BJP buying land before DeMonetisation issue
 

कैच के खुलासे पर बोली कांग्रेस: मोदी-शाह दें जवाब, BJP दे एक साल का हिसाब

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 November 2016, 13:04 IST
(फाइल फोटो )

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नोटबंदी की घोषणा के ठीक पहले बीजेपी द्वारा देश के अलग-अलग हिस्सों में बड़े पैमाने पर करोड़ों रुपये की जमीन खरीदने का खुलासा होने के बाद कांग्रेस ने बीजेपी पर जोरदार हमला बोला है. कैच ने शुक्रवार को अपनी एक्सक्लूसिव स्टोरी के जरिए इस मामले का खुलासा किया है.

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, "बीजेपी का ये जमीन खरीद दर्शाता है कि भारतीय जनता पार्टी किस प्रकार से करोड़ों-अरबों की संपत्ति खरीदकर अपना काला धन सफेद कर रही है. हम फिर मांग करते हैं कि ये पैसा कहां से आया. मोदी जी और अमित शाह जी जवाब दें."

पढ़ें: नोटबंदी से ठीक पहले भाजपा ने देश भर में करोड़ों की जमीनें खरीदीं

सुरजेवाला ने मीडिया से बातचीत के दौरान आगे कहा, "बीजेपी ये भी जवाब दे कि पूरे देश में कहां-कहां ऐसी संपत्ति के सौदे पिछले छह महीनों में बीजेपी और उनके पदाधिकारियों द्वारा किए गए. बीजेपी की राष्ट्रीय और प्रांतीय इकाइयों के खाते लेन-देन का सारा हिसाब पिछले 1 साल का सार्वजनिक किया जाए. ताकि दूध का दूध और पानी का पानी सामने आए." 

कैच न्यूज़ का जताया शुक्रिया

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने इस मामले में कैच न्यूज की रिपोर्ट की तारीफ की. सुरजेवाला ने कहा, "कैच न्यूज़ को बहुत-बहुत साधुवाद. जिस प्रकार से भारतीय जनता पार्टी और उनके नेता, खास तौर से राष्ट्रीय अध्यक्ष के नाम पर बिहार और दूसरे राज्यों में करोड़ों की जमीन खरीदी जा रही थी, ये दिखाता है कि काले धन का घोटाला बहुत बड़ा है."

सुरजेवाला ने साथ ही कहा कि इस मामले के सामने आने के बाद संयुक्त संसदीय समिति यानी जेपीसी जांच के जरिए भाजपा की भूमिका की मांग और ज्यादा मजबूत हो गई है.

दिग्विजय बोले- जेटली जांच करवाएंगे

इससे पहले सोशल मीडिया पर भी कैच के खुलासे के बाद सियासी प्रतिक्रियाएं सामने आई थीं. स्वराज अभियान के प्रशांत भूषण ने कैच हिंदी की स्टोरी ट्वीट करते हुए लिखा, "चौंकाने वाला खुलासा! बीजेपी ने नोटबंदी से ठीक पहले बड़े पैमाने पर जमीन खरीदी. इससे साफ है कि बीजेपी को इसका काला धन निवेश करने के लिए पहले ही बता दिया गया था." 

कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने ट्वीट किया, "बीजेपी ने बिहार में जमीन खरीदी: पांच सौ और एक हजार रुपये के नोट पर प्रतिबंध लगने से पहले बीजेपी ने बिहार में करोड़ों की जमीन खरीदी. जेटली जी जांच करवाएंगे?"

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कैच न्यूज़ की रिपोर्ट के साथ ट्वीट किया, "यह चौंकाने वाला सच है. बीजेपी ने अपना पैसा ठिकाने लगा लिया. शर्मनाक."

आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता आशुतोष ने ट्विटर पर लिखा, "यह एक बड़ा घोटाला है. इसकी जांच होनी चाहिए. अमित शाह की भूमिका की जांच होनी चाहिए. मोदी भी इसमें शामिल हैं."

जनता दल यूनाइटेड ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर लिखा है, "बीजेपी ने करोड़ों की जमीन नोटबंदी से ठीक पहले खरीदी है. इससे स्पष्ट होता है कि नोटबंदी बीजेपी और इसके नेताओं के लिए गुप्त नहीं थी."

First published: 25 November 2016, 13:04 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी