Home » राजनीति » Chandrababu Naidu spoke to the Modi government, we waited for four years but we did not get justice
 

'हमने चार साल इंतज़ार किया लेकिन हमें न्याय नहीं मिला'

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 March 2018, 12:29 IST

लोकसभा में 16 सांसदों वाली तेलगूदेशम पार्टी (टीडीपी) और वाईएसआर कांग्रेस पार्टी ने केंद्र की मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव का फैसला किया है. संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार का कहना है कि हम अविश्वास प्रस्ताव का सामना करने को तैयार हैं क्योंकि संसद में हमारे पास (पर्याप्त) समर्थन है. वाम दलों ने भी अविश्वास प्रस्ताव का समर्थन किया है.

अविश्वास प्रस्ताव को लेकर शिवसेना के संजय राउत ने कहा कि हम इंतजार करेंगे और देखेंगे. हमें देखना होगा कि अविश्वास प्रस्ताव को स्पीकर की अनुमति मिलती है या नहीं. अविश्वास प्रस्ताव पर हमने कोई फैसला नहीं किया है, इस बारे में उद्धव जी फैसला करेंगे.

सूत्रों की माने तो शिवसना सरकार का समर्थन नहीं करेगी. इस बीच चंद्रबाबू नायडू ने बीजेपी से कहा कि वह टीडीपी था वाईएसआरसीपी नहीं था, जिसने ट्रिपल तलाक़ बिल पर प्रतिक्रिया दी थी. नायडू ने कहा कि  'मैंने भाजपा नेतृत्व को बताया कि ट्रिपल तलाक़ को अपराध बनाना सही नहीं है, मैं इसका विरोध करने वालों में पहला था. 

ये भी पढ़ें : मोदी सरकार के लिए बड़ी अग्निपरीक्षा, 4 साल में आएगा पहला अविश्वास प्रस्ताव

नायडू ने कहा कि हमने एक एनडीए सदस्य के रूप में सोचा भाजपा राज्य को न्याय देगी , लेकिन कुछ भी नहीं हुआ. हम चार साल से इंतजार कर रहे थे, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ. यहां तक कि पिछले बजट में भी हमें न्याय नहीं दिया गया. उन्होंने कहा 'आप लोगों ने हमेशा टीडीपी का सहयोग किया है, लेकिन जब हमने बीजेपी के साथ गठबंधन किया तो आप खुश नहीं थे. लेकिन हम मुसलमानों के कल्याण के लिए लगातार काम कर रहे हैं.'

First published: 19 March 2018, 12:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी