Home » राजनीति » Chhattisgarh elections chhattisgarh election Voting percentage record by 70%
 

छत्तीसगढ़ चुनाव 2018: 70% हुआ मतदान, 5 नक्सलियों को उतरा मौत के घाट

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 November 2018, 9:22 IST

धमाकों और गोलीबारी के बीच छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के पहले चरण में नक्सलियों के गढ़ में जमकर मतदान की गई. रिपोर्ट्स के अनुसार कुल लगभग 70% मतदान किया गया है हालांकि चुनाव आयोग ने कहा है कि वोटिंग प्रतिशत के सटीक आंकड़े बाद में जारी किए जाएंगे.

नक्सली धमकी के बावजूद मतदाताओं ने हार नहीं मानी और दिखा दिया कि बंदूक से ज्यादा ताकत लोकतंत्र में है. प्राप्त जानकारी के अनुसार शाम 4:30 बजे तक 18 सीटों के लिए हो रहे वोटिंग में कुल 56.58 प्रतिशत मतदाताओं ने मतदान किया है. पहले चरण के मतदान में मुख्यमंत्री रमन सिंह सहित 90 उम्मीदवारों की किस्मत ईवीएम में बंद हो गयी.

छत्तीसगढ़ वोटिंग के दौरान बीजापुर मुठभेड़ में तीन और कोबरा के जवान घायल हो गए जबकि पांच नक्सलियों की मौत हो गई. न्यूज एजेंसी ANI की एक रिपोर्ट में बताया गया है कि कोबरा के तीन कमांडो घायल हो गए थे और बीजापुर जिले के पमेड क्षेत्र में मुठभेड़ में लगभग पांच नक्सलियों की मौत हो गई थी.

इससे पहले, मुठभेड़ में दो कोबराकर्मी घायल हो गए थे, जिसने नक्सलियों के एक समूह ने छत्तीसगढ़ चुनावों के पहले चरण में मतदान के रूप में इस क्षेत्र को गश्त कर रहे सुरक्षा कर्मियों की एक टीम पर फयरिंग शुरू कर दिया था.

 

छत्तीसगढ़ में आज जिन 18 सीटों पर मतदान संपन्न हुआ उनमें आठ जिले बुरी तरह नक्सल प्रभावित हैं. सुचारु रूप से मतदान कराने के लिए कुल 4,336 पोलिंग बूथ बनाए गए थे. नक्सलियों ने चुनाव का बहिष्कार करने की चेतावनी थी इसके बावजूद बड़ी संख्या में वोटर्स मतदान के लिए निकले.

103 साल की सोनी बाई ने भी डाला वोट

वोट डालने में उम्र भी नहीं बना अड़चन, 103 साल की सोनी बाई ने सुकमा जिले के गोरगुंडा में वोट डाल कर नक्सलियों को मुहंतोड़ जबाब दिया. मतदान शुरू होने के कुछ ही देर बाद ही 100 साल की एक मतदाता भी सुकमा के ही द्रोणापल में अपने मताधिकार का प्रयोग करने पहुंचीं.

First published: 12 November 2018, 18:45 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी