Home » राजनीति » chief election commissioner OP rawat said, Political parties are using voting machines as scapegoat,
 

EVM को 'बलि का बकरा' बना रहे हैं राजनीतिक दल : मुख्य चुनाव आयुक्त

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 June 2018, 11:02 IST

मुख्य चुनाव आयुक्त ओपी रावत ने शनिवार को कहा कि राजनीतिक दल वोटिंग मशीनों को 'बलि का बकरा' बना रहे हैं क्योंकि वे अपनी चुनावी हार के लिए किसी न किसी को दोष देना चाहते हैं. न्यूज 18 की रिपोर्ट के अनुसार मुख्य चुनाव आयुक्त ने चुनावों में एक बार फिर से बैलेट पेपर का उपयोग करने से इनकार कर दिया. रावत ने कोलकाता में एक सम्मेलन में कहा, "हमें सिस्टम की सत्यनिष्ठा पर शक नहीं करना चाहिए" 

रावत ने कहा कि इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों से छेड़छाड़ के आरोप लगाए जाते हैं और ये आरोप राजनीतिक दलों द्वारा लगाए जाते जिन्हें अपनी हार का ठीकरा फोड़ने के लिए कोई चाहिए होता है. रावत ने यह भी कहा कि पोलिंग बूथ पर लोगों को ट्रेनिंग देने की जरूरत है.

रावत ने मतदान कर्मियों से कहा कि वह बस एक मिनट की ट्रेनिंग लेकर मोबाइल और व्हाट्सएप के साथ व्यस्त हो जाते हैं. उन्होंने कहा आप ईवीएम को गलत तरीके से कनेक्ट करते हैं या इसे गलत तरीके से शुरू करते हैं और फिर मशीन खराब हो जाती हैं. यही कारण है कि लोगों के दिमाग में इस पर संदेह पैदा होता है.

रावत ने कहा कि चुनाव आयोग ने राज्यों और लोकसभा चुनाव को एक साथ करवाने की बात पर सरकार को अपनी सिफारिशें जमा कर दी हैं. इसके लिए संविधान और कानून में बदलाव की आवश्यकता होगी. उन्होंने यह भी कहा कि चुनाव आयोग कैम्ब्रिज एनालिटिका घोटाले जैसे मामलो में डेटा चोरी को रोकने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफार्मों के लिए नए नियम बना रहा है.

ये भी पढ़ें : अब व्हिसिल ब्लोअर ने PM मोदी को लेटर लिखकर चंदा कोचर पर लगाए ये गंभीर आरोप

First published: 3 June 2018, 11:02 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी