Home » राजनीति » Chief Minister Mamata Banerjee's Trinamool Congress Total Triumph In west Bengal Civic Polls, BJP Distant Second.
 

बंगाल: नगर निकाय चुनावों में ममता के आगे नहीं चला मोदी-शाह का जादू

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 August 2017, 17:20 IST

पश्चिम बंगाल में विपक्ष को ध्वस्त करते हुए सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस ने सभी सातों नगर निकायों में जीत हासिल की है. भाजपा गुरुवार को हुई मतगणना में लेफ्ट की जगह प्रमुख विपक्षी दल के तौर पर उभरी है लेकिन वह भी तृणमूल से बेहद पीछे है.

राज्य के अलग-अलग क्षेत्रों में फैले कुल 148 वार्डों में से तृणमूल कांग्रेस ने 140 वार्डों में जीत हासिल की है. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को छह वार्ड में जीत मिली है. वाम मोर्चे के सहयोगी फॉरवर्ड ब्लॉक को एक वार्ड में जीत मिली है और एक में निर्दलीय उम्मीदवार जीता है.

वाम मोर्चे की अगुवाई करने वाली मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) और कांग्रेस को रविवार को हुए चुनावों में एक भी जगह जीत नहीं मिली है.

पूर्वी मिदनापुर जिले के हलदिया में सभी 29 वार्डो और पंसकुरा नगर निगम के 18 में से 17 वार्ड तृणमूल की झोली में गए हैं. भाजपा ने पंसकुरा के एक वार्ड में जीत दर्ज की है और इन दो नगर निकायों के ज्यादातर इलाकों में दूसरे स्थान पर रही है.

जलपाईगुड़ी जिले के घूपगुरी नगर पालिका के 16 वार्डो में से 12 में जीत हासिल कर तृणमूल कांग्रेस फिर सत्ता में लौटी है. यहां बाकी की चार सीटें भाजपा को मिलीं. बीरभूम जिले के नलहाटी नगर पालिका में तृणमूल को 16 में से 14 वार्ड मिले. यहां फॉरवर्ड ब्लॉक एक वार्ड में और एक वार्ड में निर्दलीय उम्मीदवार विजयी रहा.

दक्षिणी दिनाजपुर जिले के बुनियादपुर नगरपालिका चुनाव में पहली बार चुनावों में तृणमूल कांग्रेस ने जबर्दस्त जीत दर्ज की. यहां तृणमूल को 14 में से 13 वार्ड में जीत मिली और भाजपा को एक में. पश्चिमी जिले बर्दवान में दुर्गापुर नगर निगम में तृणमूल को सभी 43 वार्डो में जीत मिली. कांग्रेस के पूर्व गढ़ नादिया जिले के कोपर्स कैंप नोटिफाइड अथॉरिटी में भी तृणमूल को सभी 12 वार्डो में जीत हासिल हुई.

First published: 17 August 2017, 17:20 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी