Home » राजनीति » Congress President Rahul Gandhi targets modi governmet on rafale deal india, Congress spokesperson Randeep Surjewala said it was like a big
 

राफेल सौदा मामलाः 'बड़े घोटाले की बू आ रही है'

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 February 2018, 9:27 IST

कांग्रेस पार्टी अब जमकर मोदी सरकार पर बरस रही है. यहां तक कि अब कांग्रेस केंद्र सरकार पर घोटाले का आरोप भी लगाने से नहीं चूक रही. फिलहाल में कांग्रेस अध्यक्ष ने राफेल विमान सौदे को लेकर मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला है. साथ ही इस सौदे में घोटाले का भी आरोप लगाया है.

 

मंगलवार को कांग्रेस ने मोदी सरकार पर राफेल लड़ाकू विमान सौदा कर के बाद सरकार पर राष्ट्रीय हित एवं सुरक्षा के साथ सौदा करने का आरोप लगाया है. इस बारे में कांग्रेस ने कहा है कि इस सौदे में से घोटाले की बू आ रही है क्योंकि राफेल सौदे के लिए बातचीत में कोई पारदर्शिता नहीं देखी गई.

 

दरअसल कांग्रेस के नवनिर्वातचित अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल विमान सौदे को लेकर एक ट्वीट किया. इस ट्वीट के जरिये राहुल ने मोदी सरकार पर हमला बोला है. उन्होंने कहा, ‘अति गोपनीय ( वितरण के लिए नहीं). आरएम ( रक्षा मंत्री) कहती हैं कि प्रत्येक राफेल विमान के लिए प्रधानमंत्री और उनके ‘भरोसेमंद’ मित्र के बीच हुई बातचीत एक राजकीय गोपनीयता है.’ इसी ट्वीट में राहुल ने ये भी कहा, ‘एक्शन प्वाइंट. मूल्य के बारे में संसद को सूचित करना राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा होगा. जो भी पूछे, उसे राष्ट्र विरोधी घोषित कर दो.’ कांग्रेस अध्यक्ष ने इस ट्वीट पर हैशटैग दिया ‘बड़ा राफेल रहस्य’.

 

इस ट्वीट के बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद भी चुप नहीं बैठे और इस मुद्दे पर संवाददाताओं से कहा, 'सरकार राफेल विमान का मूल्य संसद में भी खुलासा नहीं करना चाहती, जिससे उसकी मंशा पर सन्देह पैदा होता है.' गुलाम नबी ने आरोप लगाया, ‘मोदी सरकार राष्ट्रीय हित एवं राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ समझौता करने के माफ नहीं किए जाने वाले खेल में लगी है. भारतीय वायु सेना के लिए लड़ाकू विमान की खरीद में बड़े घोटाले की बू आ रही है.’

 

राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद ने कहा, ‘बड़ी आशंकाएं हैं तथा सरकारी खजाने को बड़ा नुकसान होने की बात सार्वजनिक स्तर पर ज्ञात है और सरकार सत्य बताने से इंकार कर रही है.’ आजाद ने कांग्रेस के मीडिया प्रभारी रणदीप सुरजेवाला और पार्टी प्रवक्ता एवं राज्यसभा सदस्य राजीव गौड़ा की उपस्थिति वाली प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि समय आ गया है कि प्रधानमंत्री को राफेल सौदे पर कांग्रेस द्वारा उठाये गये सवालों का जवाब देना चाहिए. उन्होंने कहा कि इस सौदे पर सरकार ने पूर्ण एवं सोची समझी चुप्पी साध रखी है.

ये भी पढ़ेंः कहीं आपने अपने आधार पर लैमिनेशन तो नहीं किया, UIDAI ने जारी की ये चेतवानी

गुलाम नबी ने कहा, ‘यह विमान इसी कंपनी द्वारा कतर को 694.8 करोड़ रुपये में बेचा गया तो यह 100 प्रतिशत अधिक दाम पर भारत को क्यों बेचा गया?’ सुरजेवाला ने कहा, 'प्रधानमंत्री ने अनिवार्य रक्षा खरीद प्रक्रिया की अनदेखी कर 36 विमान खरीदने का निर्णय एकपक्षीय ढंग से कैसे कर लिया जबकि उस समय फ्रांस के साथ कोई अंतर सरकारी समझौता नहीं था.'

First published: 7 February 2018, 9:27 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी