Home » राजनीति » dalit leader jignesh mevani attacks on bjp and rss in gauri lankesh birthday programme, gujarat mla jignesh mevani, chaddhidhari, karnataka
 

'चड्ढीधारियों' को हराने के लिए दलित नेता जिग्नेश मेवाणी ने तैयार की ये रणनीति

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 January 2018, 15:01 IST

कर्नाटक में इसी साल होने जा रहे विधानसभा चुनाव से पहले राजनीतिक पार्टियों ने अपना खेल खेलना शुरू कर दिया है. जहां एक तरह भाजपा और कांग्रेस के नेता एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप कर रहे हैं. वहीं दलित नेता और गुजरात के वडगाम से निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवाणी ने भाजपा और आरएसएस के खिलाफ एक बार फिर मोर्चा खोल दिया है. मेवाणी ने आरएसएस के लोगों को चड्ढीधारी बोलते हुए हमला किया है.

बेंगलुरू में पत्रकार गौरी लंकेश की जयंती पर आयोजित एक कार्यक्रम में जिग्नेश मेवाणी ने कहा कि राज्य में चड्ढीधारियों को हराने के लिए मुख्य राजनीतिक पार्टियां एकजुट हों. उन्होंने कहा कि वह राज्य में भाजपा को 20 वोट भी नहीं मिलने देंगे. उन्होंने कहा कि लोकतंत्र की रक्षा के लिए हम अपनी वैचारिक शुद्धता में नहीं फंस सकते.

मेवाणी ने कर्नाटक विधानसभा चुनाव से पहले सभी गैर भाजपाई पार्टियों से एकजुट होने का आग्रह किया. उन्होंने कहा कि हमें इन ताकतों को हराने के लिए अन्य समान विचारधारा वाले समूहों के साथ आना होगा. मेवाणी ने कहा कि वह अप्रैल में दो सप्ताह के लिए कर्नाटक में रहेंगे और सूबे के बीस फीसदी दलितों से कहेंगे कि भाजपा को अपना वोट ना दें.

अपने संबोधन में मेवाणी ने आगे कहा कि अप्रैल में दो सप्ताह के लिए वह कर्नाटक में रहेंगे और सूबे के बीस फीसदी दलितों से कहेंगे कि भाजपा को अपना वोट ना दें. गौरी लंकेश की जयंती में जिग्नेश मेवानी के साथ लंकेश की फिल्मकार बहन कविता लंकेश, मशहूर एक्टर प्रकाश राज, इरोम शर्मिला, कर्नाटक के फ्रीडम फाइटर एचएस डेरोस्वामी और तीस्ता सीतलवाड़ पहुंची थीं.

दरअसल, गुजरात विधानसभा चुनाव के दौरान मेवाणी भाजपा पर दलित मुद्दे को लेकर हमलावर रहे थे. अब वह देश भर में घूम-घूमकर भाजपा के खिलाफ दलितों को इकट्ठा करने की कोशिश कर रहे हैं.

First published: 30 January 2018, 15:01 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी