Home » राजनीति » delhi chief minister arvind kejriwal attacked karani sena says could not sleep in the night hear about gurugram school bus attack
 

स्‍कूली बस पर हमला करने वाले गुंडों पर भड़के केजरीवाल, बोले- मिले रावण जैसी सजा

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 January 2018, 13:44 IST

गुरुग्राम के जीडी गोयनका स्कूल की बस पर करनी सेना ने पथराव किया था. करणी सेना के गुंडों ने बस पर तब हमला किया था जब उसमें बच्चे भी मौजूद थे. इसे लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने घटना की कड़ी निंदा की और इस घटना में शामिल लोगों को कठोर सजा देने की मांग की.

केजरीवाल ने कहा कि छात्रों के हमले वाले वीडियो को देखकर मैं रातभर सो नहीं सका. इस वीडियो को देखकर मैं विचलित हो गया, यह घोर निंदनीय है. उन्‍होंने करणी सेना की तुलना रावण से किया. केजरीवाल ने कहा कि इन लोगों को रावण की तरह से ही सजा मिलनी चाहिए. उन्‍होंने कहा कि ये वही लोग हैं जिन्‍होंने दलितों और मुसलमानों का शोषण किया. उन पर जुल्‍म ढाए. ऐसे लोगों को सजा जरूर मिलनी चाहिए.

केजरीवाल ने दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम में आयोजित एक कार्यक्रम में कहा, ''मैंने सोशल मीडिया में इस हमले का वीडियो देखा है. इसे देखने के बाद मैं पूरी रात सो नहीं पाया. गणतंत्र दिवस के पहले वाली शाम देश की राजधानी से कुछ किलोमीटर दूर इस तरह की घटना हम सबके लिए डूब मरने वाली बात है. बच्चों पर पत्थर से हमला किया गया. किसी को कोई भी तकलीफ हो, लेकिन हमारे बच्चों पर हाथ नहीं उठा सकते हैं. हमारा देश भगवान राम, कृष्ण, बुद्ध और महावीर की धरती है.''

दिल्ली के सीएम ने कहा कि वह खुद भगवान राम के भक्त हैं. केजरीवाल ने पूछा कि क्या कभी भगवान राम ने कहा था कि मामूस बच्चों पर पत्थर चलाने चाहिए. कृष्ण, बुद्ध या महावीर ने कभी ऐसी शिक्षा दी थी कि मामूसों को निशाना बनाया जाए. भारत प्यार और मोहब्बत वाला देश है. उन्होंने कहा, 'आज अगर राम होते तो ऐसे लोगों को क्या सजा देते, मुझे लगता है कि जो सजा राम ने रावण को दी थी उससे भी कठोर सजा इन उपद्रवियों को मिलती. बच्चे किसी धर्म या जाति के नहीं थे.

 

रो रहे थे बच्चे फिर भी नहीं पसीजा दिल

बस में बड़ी संख्या में बच्चों के होने के बावजूद प्रदर्शनकारियों ने बस पर हमला बोल दिया. बस में बैठे टीचर और बच्चे सहम गए. इस दौरान बच्चों ने रोना शुरू कर दिया. स्कूली बस पर हुए इस हमले का वीडियो सोशल मीडिया पर भी वायरल हो रहा है. इस वीडियो में प्रदर्शनकारियों के पथराव से भयभीत बच्चे सीट के नीचे छिपते दिख रहे हैं.

एक टीचर बच्चों को बस की फर्श पर लेट जाने के लिए कह रही हैं. वीडियो में दिख रहा है कि बच्चे रो रहे हैं. अध्यापक रहम की भीख मांग रहे हैं लेकिन बच्चों की चीख-पुकार के बीच उपद्रवियों का पथराव जारी रहा.

 

स्कूल की एक टीचर ने बताया कि पथराव के कारण बस के शीशे टूटकर बिखर गए. इससे कुछ बच्चों को मामूली चोट आई है. लेकिन अंदर से सभी बच्चे बुरी तरह से डर गए हैं. पुलिस के हस्तक्षेप के बाद उपद्रवी तो भाग गए लेकिन बच्चों का डर अभी खत्म नहीं हुआ है.

हालांकि करणी सेना ने पथराव से इंकार किया है.

ये भी पढ़ें- भाजपा, हार्दिक और अल्पेश को मिलाने का काम पद्मावत ने कर दिखाया

First published: 25 January 2018, 13:44 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी