Home » राजनीति » delhi cm arvind kejriwal breaks silence on former aap minister kapil mishra allegations.
 

कपिला मिश्रा के आरोपों पर केजरीवाल का जवाब- भ्रष्ट होता, तो जेल में होता

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 May 2017, 11:53 IST

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने रविवार को पहली बार अपने ऊपर लगे आरोपों पर जवाब दिया. दिल्ली के पंजाबी बाग में में आम आदमी पार्टी के ‘प्रदेश पदाधिकारी सम्मलेन’ में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने कहा कि अगर वो भ्रष्टाचार में लिप्त होते तो जेल में होते.

कपिल मिश्रा के आरोपों पर केजरीवाल ने पहली बार अपनी चुप्पी तोड़ी. उन्होंने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि मेरे ऊपर ऐसे आरोप लगाये जा रहे हैं, जिस पर विरोधी भी भरोसा नहीं करते हैं. विरोधियों द्वारा उन पर लगे आरोपों पर अगर कुछ भी सच्चाई होती, तो उन्हें जांच एजेंसियों ने जेल भेज दिया होता. केजरीवाल ने अपने मंत्री सत्येंद्र जैन का भी बचाव किया. उन्होंने कहा कि सत्येंद्र जैन ने कोई चोरी नहीं की है.

कपिल मिश्रा के पार्टी के फंड में गड़बड़ी के आरोपों पर केजरीवाल ने कहा कि जब तक मैं इस पार्टी को चला रहा हूं, आप सबको भरोसा देता हूं, आपके दिये हुए चंदे को अपवित्र नहीं होने दूंगा. केजरीवाल ने कहा कि पिछले दिनों हमारे आंदोलन के ऊपर बड़ा हमला किया गया है. उन्होंने कहा कि वो बड़ी से बड़ी भ्रष्ट ताकतों से लड़ने की हिम्मत रखते हैं, पर जब कोई अपना धोखा देता है तो बड़ा दर्द होता है.

खुद पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों पर केजरीवाल ने प्रदेश कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि अगर मैं थोड़ा सा भी बेईमान होता तो जिस दिन मैंने रॉबर्ट वाड्रा और मुकेश अंबानी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई, तो मुझे उसी दिन जेल भेज दिया जाता.

दरअसल दिल्ली सरकार के पूर्व जल मंत्री और केजरीवाल के सहयोगी रहे कपिल मिश्रा ने उन पर बड़ा आरोप लगाया था. कपिल ने कहा था कि उन्होंने अरविंद केजरीवाल को सत्येंद्र जैन से 2 करोड़ रुपये लेते हुए देखा था.

First published: 22 May 2017, 11:22 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी