Home » राजनीति » Digvijaya Singh: Telangana Police is posting inflammatory postings to radicalise Muslim Youth through their fake ISIS site
 

तेलंगाना पुलिस, मुस्लिम और ISIS पर दिग्विजय के इस ट्वीट से मचा बवाल...

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 May 2017, 15:49 IST

कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने तेलंगाना पुलिस को लेकर एक विवादित ट्वीट किया है. दिग्विजय ने ब्रिटेन के अखबार द गार्जियन के एक आर्टिकल का लिंक ट्विटर पर पोस्ट करते हुए लिखा, "चरमपंथी सामग्री प्रसारित करने पर सोशल मीडिया फर्म्स को भारी-भरकम जुर्माना भरना होगा." दरअसल ब्रिटेन में आंतरिक मामलों की संसदीय समिति ने इसकी सिफारिश की है. 

इसके बाद दिग्विजय ने जो ट्वीट किया, उस पर हंगामा खड़ा हो गया है. कांग्रेस नेता ने ट्वीट किया, "मैं इस बात से सहमत हूं लेकिन तेलंगाना पुलिस के बारे में आपका क्या कहना है, जिसने मुस्लिम युवाओं को कट्टरपंथ की राह पर उकसाने के लिए आईएसआईएस की फर्जी वेबसाइट बनाकर रखी है."

 

'केसीआर को इस्तीफ़ा देना चाहिए'

दिग्विजय ने साथ ही कहा कि तेलंगाना पुलिस की जानकारी पर मध्य प्रदेश पुलिस ने शाजापुर ट्रेन धमाके के आरोपियों को गिरफ्तार किया. उसी दिन लखनऊ में सैफुल्लाह को एनकाउंटर में मार गिराया.

दिग्विजय सिंह ने कहा, "क्या तेलंगाना पुलिस भड़काऊ सूचना देकर मुस्लिम युवाओं को आईएसआईएस में शामिल होने के लिए उकसा रही है. क्या यह नैतिक है? क्या के चंद्रशेखर राव तेलंगाना पुलिस को मुस्लिम युवाओं को फंसाने और उन्हें ISIS ज्वाइन करने के लिए उकसाने की मंजूरी दे रखी है? अगर ऐसा है तो क्या उन्हें जिम्मेदारी लेते इस्तीफा नहीं देना चाहिए?" 

TRS ने कहा माफी मांगे दिग्विजय

इस मुद्दे पर तेलंगाना की सत्ताधारी पार्टी टीआरएस ने कड़ी आपत्ति जताई है. टीआरएस नेता एपी जितेंद्र रेड्डी ने कहा है कि यह पूरी तरह से बकवास बात है और दिग्विजय सिंह अपना मानसिक संतुलन खो चुके हैं." 

वहीं राज्य के कैबिनेट मंत्री केटी रामाराव ने कहा कि दिग्विजय सिंह का बयान पूरी तरह से गैरजिम्मेदारी दिखाता है. उनको आरोप लगाने से पहले सबूत दिखाने चाहिए और अगर ऐसा नहीं है तो उन्हें अपने बयान पर तेलंगाना पुलिस से बिना शर्त फौरन माफी मांगनी चाहिए.

First published: 1 May 2017, 15:49 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी