Home » राजनीति » Election commission notice to Navjot Singh Sidhu on his statement
 

सिद्धू ने की मुस्लिम वोटर्स से अपील तो चुनाव आयोग ने मांगा जवाब, जारी किया कारण बताओ नोटिस

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 April 2019, 8:11 IST

चुनाव आयोग ने कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू को कारण बताओ नोटिस जारी किया है. आयोग ने ये उनके उस बयान के बाद जारी किया है जिसमें सिद्धू ने मुस्लिम मतदाताओं के वोट बांटे जाने की कोशिश के बारे में कथित तौर पर चेतावनी दी थी. सिद्धू ने ये बयान बिहार में दिया था.

बता दें कि कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने बिहार में मुस्लिम मतदाताओं से एकजुट होकर पीएम नरेंद्र मोदी को हटाने की अपील की थी. सिद्धू के इसी बयान पर चुनाव आयोग ने सख्ती दिखाते हुए उनसे जवाब मांगा है. आयोग ने सिद्दू से 24 घंटे के भीतर जवाब दाखिल करने को कहा है. बता दें कि सिद्धू ने बिहार के किशनगंज में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए यह विवादित बयान दिया था. उसके बाद बीजेपी ने चुनाव आयोग से सिद्धू के इस बयान को लेकर शिकायत की थी.

बता दें कि चुनाव आयोग ने कांग्रेस नेता सिद्धू के खिलाफ इस टिप्पणी को लेकर बिहार के कटिहार में एक प्राथमिकी दर्ज होने का भी जिक्र किया है. सिद्धू के खिलाफ जनप्रतिनिधि अधिनियम की धारा 123 समेत दंड सहिता की अन्य धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है.

बता दें कि कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने बिहार के कटिहार में बीते 16 अप्रैल को एक चुनावी जनसभा में मुस्लिम मतदाताओं से कहा था कि एकजुट होकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को हराने के लिये मतदान करें. उनके इस बयान के बाद खासा विवाद पैदा हो गया था. बता दें कि सिद्धू कटिहार में कांग्रेस उम्मीदवार तारिक अनवर के समर्थन में रैली को संबोधित करने पहुंचे थे.

ज्ञात हो कि चुनावी रैलियों में अक्सर राजनेता आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन कर रहे हैं ऐसे में चुनाव आयोग भी सख्ती दिखा रहा है. इससे पहले चुनाव आयोग बीएसपी सुप्रीमो मायावती, बीजेपी नेता मेनका गांधी, यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ और सपा नेता आजम खान के खिलाफ भी कार्रवाई कर चुका है. इन सब नेताओं पर आदर्श आचार संहति का उल्लंघन करने का आरोप लगा था.

गठबंधन न होने पर बोली AAP, मोदी-शाह को सत्ता दिलाने में कांग्रेस होगी जिम्मेदार

First published: 21 April 2019, 8:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी