Home » राजनीति » Election Commission postpone anantnag by poll since 25 may.
 

चुनाव आयोग ने अनंतनाग लोकसभा उपचुनाव 25 मई तक क्यों टाला?

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 April 2017, 12:11 IST

चुनाव आयोग ने 12 अप्रैल को होने वाला अनंतनाग लोकसभा का उपचुनाव टाल दिया है. चुनाव आयोग ने 25 मई तक के लिए ये उपचुनाव टाल दिया है. चुनाव आयोग के मुताबिक राज्य प्रशासन को आशंका है कि चुनाव प्रक्रिया को बाधित करने के लिए अराजक तत्वों की ओर से ‘हिंसक प्रयास’ किए जा सकते हैं.

सूत्रों के अनुसार जम्मू-कश्मीर में दो लोकसभा सीट पर होने वाले  उपचुनाव की तारीख को लेकर होम मिनिस्ट्री और चुनाव आयोग में गंभीर मतभेद थे. इससे पहले जम्मू-कश्मीर की सत्ता में काबिज पीडीपी ने निर्वाचन आयोग से अनंतनाग में होने वाले उपचुनाव को स्थगित करने का आग्रह किया था.

श्रीनगर लोकसभा चुनाव में हुई हिंसा में 8 की मौत

रविवार को श्रीनगर लोकसभा सीट के लिए हुए उपचुनाव में हिंसा के दौरान 8 लोगों की मौत हुई थी और घाटी में मतदान का प्रतिशत बेहद कम रहा था. श्रीनगर में चुनावों के दौरान हुई हिंसा के बाद सुरक्षाबलों को भीड़ को काबू में करने के लिए  जगह गोलियां चलानी पड़ी. श्रीनगर में हुए लोकसभा चुनाव में मात्र 7.14 फीसदी वोटिंग हुई थी. जिसे लेकर चुनाव आयोग ने गहरी चिंता जताई थी.

अनंतनाग सीट पर चुनाव आयोग को लोकसभा का उपचुनाव इसलिए कराना पड़ रहा है, क्योंकि जम्मू कश्मीर की सीएम महबूबा मुफ्ती को विधानसभा चुनाव जीतने के बाद ये सीट छोड़नी पड़ी थी.

रविवार को श्रीनगर लोकसभा सीट के लिए हुए उपचुनाव में हिंसा और मतदान का प्रतिशत बेहद कम रहने के कारण चुनाव आयोग उन मतदान केन्द्रों मे दोबारा चुनाव कराने के संबंध में शीघ्र हर कोई निर्णय सकता है. 

चुनाव आयोग के साथ मीटिंग में होम मिनिस्ट्री का कहना था कि कश्मीर घाटी में माहौल अनुकूल नहीं है और इसलिए वोटिंग टालनी चाहिए और पंचायत चुनाव के होने पर इसे कराना ठीक रहेगा .आयोग ने होम मिनिस्ट्री की दलील को नहीं माना था। आयोग का तर्क था कि राष्ट्रपति चुनाव से पहले वह सभी खाली पड़े पदों पर चुनाव आयोजित कराना चाहता है.

First published: 11 April 2017, 12:01 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी