Home » राजनीति » Election Commissioner OP Rawat says our political parties Winning at all cost, without ethics, is new normal in politics’
 

चुनाव आयुक्त ने राजनीतिक दलों को सुनाई खरी-खरी

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 August 2017, 14:44 IST

चुनाव आयुक्त ओपी रावत ने देश के राजनीतिक दलों को लेकर एक बड़ा बयान दिया है. उन्होंने ये बयान एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान दिया है.

ओपी रावत ने राजनीतिक पार्टियों पर तंज कसते हुए कहा, "आज के समय में राजनीतिक पार्टियां किसी भी कीमत में चुनाव जीतना चाहती हैं." उन्होंने कहा, "लोकतंत्र तभी अच्छा चलता है जब चुनाव निष्पक्ष और सही तरीके से हो, लेकिन आम आदमी को ऐसा लग सकता है कि राजनीतिक दल चुनाव को हर हाल में जीतना चाहते हैं और इसके लिए एक तरह की स्क्रिप्ट भी लिखते हैं."

ओपी रावत ने आगे कहा, "इन हालात में जन प्रतिनिधियों की खरीद-फरोख्त को बेहतरीन राजनीतिक प्रबंधन माना जाता है. इस काम में राज्य की मशीनरी भी इस्तेमाल की जाती है." हालांकि, चुनाव आयुक्त ने इससे मुक्ति की वकालत की. उन्होंने इससे मुक्ति के लिए राजनीतिक पार्टियों, मीडिया और आम नागरिकों की भागीदारी पर जोर दिया.

गौरतलब है कि चुनाव आयुक्त ओपी रावत का बयान ऐसे समय में आया है, जबकि कुछ दिन पहले गुजरात में राज्यसभा चुनाव के दौरान भाजपा और कांग्रेस ने चुनाव जीतने के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगा दिया था.

शिकायत के बाद चुनाव आयोग ने कांग्रेस के दो बागी विधायकों के वोट रद्द कर दिए थे. इसी के बाद कांग्रेस के अहमद पटेल को राज्यसभा सीट मिल पाई थी. इन चुनावों में कांग्रेस ने अपने विधायकों को भाजपा द्वारा तोड़ने से बचाने के लिए बेंगलुरु के रिसॉर्ट में रखा था.

First published: 18 August 2017, 14:44 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी