Home » राजनीति » Ex Imran khan MLA to PM Modi- Muslims are not safe in Pakistan
 

पाकिस्तान नहीं लौटना चाहते इमरान खान के पूर्व विधायक, PM मोदी से की ये बड़ी मांग

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 September 2019, 12:09 IST

पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों पर हो रहे अत्याचार को लेकर भारत में राजनीतिक शरण मांग रहे इमरान खान की पार्टी पीटीआई के पूर्व विधायक बलदेव कुमार ने मंगलवार को दावा किया कि वहां हिंदुओं और सिखों पर अत्याचार किया जा रहा है. एक रिपोर्ट के अनुसार बलदेव कुमार ने यह भी कहा कि पाकिस्तान में मुस्लिम भी सुरक्षित नहीं हैं क्योंकि यहां जीवन कठिनाइयों से भरा है.

बलदेव कुमार ने एएनआई से कहा “न केवल अल्पसंख्यक बल्कि मुस्लिम भी पाकिस्तान में सुरक्षित नहीं हैं. हम पाकिस्तान में बहुत मुश्किलों से रह रहे हैं. मैं भारत सरकार से अनुरोध करता हूं कि वह मुझे यहां शरण दे. मैं पीछे नहीं हटूंगा.” बलदेव की इस मांग ने एक बार फिर से पाकिस्तान में अल्पसंख्यक समुदायों के साथ हो रहे अन्याय को उजागर कर दिया है.

खैबर पख्तून ख्वा (केपीके) विधानसभा के बारिकोट के पूर्व पीटीआई विधायक बलदेव अपने परिवार के साथ राजनीतिक शरण लेने के लिए भारत में हैं. 43 वर्षीय बलदेव अब पाकिस्तान नहीं लौटना चाहते हैं और उन्होंने आरोप लगाया है कि पाकिस्तान में हिंदुओं और सिखों सहित अल्पसंख्यकों पर मुकदमा चलाया जा रहा है.

उन्होंने अनुरोध किया “भारत सरकार को एक पैकेज की घोषणा करनी चाहिए ताकि पाकिस्तान में रहने वाले हिंदू और सिख परिवार यहां आ सकें.  मैं चाहता हूं कि मोदी साहब उनके लिए कुछ करें. उन्हें वहां यातना दी जाती है''. 2016 में उनके निर्वाचन क्षेत्र के एक मौजूदा विधायक की हत्या कर दी गई थी.

बलदेव पर एक झूठी हत्या का मुकदमा लगाया गया था और 2018 में बरी कर दिया गया. आरोप है कि पाकिस्तान में जहां हिंदू, सिख और ईसाई लड़कियों को जबरन इस्लाम में परिवर्तित किया जाता है और मुस्लिम पुरुषों से शादी की जाती है. हालही में ननकाना साहिब की एक सिख लड़की के अपहरण, जबरन शादी और धार्मिक रूपांतरण की हालिया घटना एक उदाहरण है.

बीजेपी नेता चिन्मयानंद पर छात्रा का आरोप, कहा- एक साल तक किया मेरा बलात्कार

First published: 10 September 2019, 12:10 IST
 
अगली कहानी