Home » राजनीति » Gorakhpur hospital tragedy: shivsena attacks on pm modi,yogi adityanath and bjp in samna on child deaths in brd hospital for the reason of n
 

NDA की सहयोगी पार्टी बोली, गोरखपुर के हॉस्पिटल में हुई 'सामूहिक बालहत्या'

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 August 2017, 12:57 IST
कैच न्यूज़

गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में हुई बच्चों की मौत भाजपा को विपक्ष के तीखे सवालों का सामना करना पड़ रहा है. इस दर्दनाक घटना के बाद वो एक बार फिर सरकार में अपनी सहयोगी पार्टी शिवसेना के निशाने पर आ गई है. स्वत्रंता दिवस से पहले शिवसेना ने इस घटना को लेकर पीएम मोदी और य़ूपी के सीएम योगी दोनों पर निशाना साधा है.

शिवसेना के मुखपत्र सामना में इस घटना को 'सामूहिक बालहत्या' करार दिया है और भाजपा पर जमकर निशाना साधा है. सामना में अपने संपादकीय में लिखा है, "उत्तर प्रदेश का बाल हत्या तांडव- स्वतंत्रता दिवस का अपमान है. उत्तर प्रदेश के गोरखपुर के अस्पताल में 70 बच्चों की मौत को 'सामूहिक बालहत्या' ही कहेंगे, यह गरीबों की बदकिस्मती है. गरीबों का दुख, उनकी वेदना और उनके 'मन की बात ' को समझने के बजाए, उनकी वेदनाओं की खिल्ली उड़ाई जा रही है. जो हुआ है... उसके लिए जिम्मेदार कौन है."

सामना ने अपने संपादकीय में पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए उनके अच्छे दिनों के नारे पर टिप्पणी की है. पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए सामना में आगे लिखा है "केंद्र में सत्ता परिवर्तन होने के बावजूद, आज भी सरकारी अस्पतालों में गरीब और ग्रामीण लोगों के लिए 'अच्छे दिन' नहीं आए हैं."

शिवसेना के निशाने में भाजपा की यूपी सरकार और वहां के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी हैं. सामना में यूपी सरकार के हेल्थ मिनिस्टर पर निशाना साधते हुए लिखा गया है, "यूपी के स्वास्थ मंत्री का कहना है कि अगस्त के महीने में बच्चे मरते ही हैं. तो हमारा सवाल है कि...अगस्त के महीने में सिर्फ गरीबों के बच्चे ही क्यों मरते हैं- क्यों अमीरों के बच्चों के साथ ऐसा नहीं होता."

First published: 14 August 2017, 12:57 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी