Home » राजनीति » Govindacharya: Modi want to work for better India
 

गोविंदाचार्य: मोदी में कुछ कर दिखाने का इरादा तो झलकता है

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:45 IST
(पीटीआई)

भारतीय जनता पार्टी के थिंक टैंक कहे जाने वाले केएन गोविंदाचार्य ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि वो देश को बेहतर दिशा देने के लिए बहुत मेहनत से काम कर रहे हैं. बेहतर परिणाम के लिए छोड़ा इंतजार करना पड़ेगा, तभी देश की सही तस्वीर सामने आएगी.

गोविंदाचार्य ने कहा कि केंद्र सरकार के ढाई वर्षों के काम में कुछ कर दिखाने का इरादा झलकता है और प्रधानमंत्री मोदी इस मामले में काफी परिश्रम भी कर रहे हैं लेकिन परिणाम आने में अभी समय लगेगा.

मोदी सरकार के ढाई वर्षों के कामकाज के बारे में पूछे जाने पर गोंविदाचर्य ने समाचार एजेंसी पीटीआई से बातचीत में कहा, ‘‘मोदी के अंदर कुछ कर दिखाने का इरादा तो झलकता है. वह परिश्रम भी बहुत कर रहे हैं. उनकी मेहनत स्पष्ट दिखती है, लेकिन परिणाम आने में अभी समय लगेगा.’’

उन्होंने कहा कि सामान्य जन के मन में कई बार सरकार की प्राथमिकताओं के बारे में सवाल, संदेह, शंकाएं उत्पन्न होती हैं. इसका कारण यह है कि चुनाव के दौरान बहुत उम्मीदें बढ़ा दी गई थीं.

गोविंदाचार्य ने कहा कि केंद्र की तरफ से राज्यों की सरकारों के साथ भरोसे का संवाद बनाने की जरूरत है.

उन्होंने कहा कि इस मामले में सत्तारूढ़ दल को पहल करनी चाहिए. विपक्ष और प्रदेशों की गैर भाजपा सरकारों से विश्वास एवं संवाद बढ़ाने की जरूरत है.

विपक्ष कई बार गैर जिम्मेदार ढंग से मुद्दे उठाता है फिर भी लोकतंत्र में सत्तारूढ़ पक्ष से ही अपेक्षा की जाती है कि वह संवाद की पहल करें.

अन्ना आंदोलन के बाद दिल्ली में सत्तारूढ़ केजरीवाल सरकार के बारे में एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, ‘‘मैं मानता हूं कि जितनी केंद्र की सरकार से उम्मीदें हैं, उससे भी ज्यादा दिल्ली की सरकार से जनता को उम्मीदें थीं. मगर वे राज्यपाल और विधायिका के विवादों में ही उलझे रह गए. इससे केवल और केवल जनता को ही नुकसान पहुंचा है."

गोविंदाचार्य ने कहा कि जवाबदेही किसकी है, इसके बारे में गर्द गुबार ने राजनैतिक वातावरण को प्रदूषित किया. जनहित की बजाए कई अवसरों पर दलीय राजनीति हावी दिखी.

First published: 6 November 2016, 5:14 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी