Home » राजनीति » Demonetization: Big win for BJP in local bodies byelection, won 109 seats out of 125
 

नोटबंदी बेअसर: महाराष्ट्र के बाद गुजरात निकाय उपचुनाव में भी BJP की बड़ी जीत

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 November 2016, 14:48 IST
(फाइल फोटो)

गुजरात में नोटबंदी के बाद हुए पहले चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को बड़ी जीत मिली है. स्थानीय निकाय के इस उपचुनाव में बीजेपी ने पहले के मुकाबले दोगुने के करीब पहुंचा दिया है.

गुजरात में जिला पंचायत, तहसील पंचायत और नगरपालिका की 125 सीटों पर हुए उपचुनाव के नतीजों में बीजेपी को अपडेट मिलने तक 109 सीटों पर जीत मिली थी, जबकि पहले बीजेपी के पास 64 सीटें ही थीं.

इससे पहले महाराष्ट्र में भी स्थानीय निकाय के चुनाव में बीजेपी को फायदा मिला था. गुजरात में नतीजों से मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस को झटका लगा है. नतीजों के बाद कांग्रेस के पास सीटें 52 से घटकर 16 हो गई हैं. इस तरह उसे 36 सीट का नुकसान झेलना पड़ा है.

नोटबंदी के फैसले के बाद नतीजों को बीजेपी के लिए लिटमस टेस्ट की तरह देखा जा रहा था. विपक्ष ने मोदी सरकार के फैसले पर कहा था कि जनता चुनाव में उसे सबक सिखाएगी, लेकिन नतीजों में बीजेपी को बढ़त साफ दिख रही है. 

महाराष्ट्र में भी निकाय में खिला था कमल

इससे पहले महाराष्ट्र के स्थानीय निकाय चुनाव में भी बीजेपी ने विपक्षी पार्टियों को पीछे छोड़ दिया था. ऐसा पहली बार है जब राज्य में निकाय के अध्यक्ष सीधे जनता के द्वारा चुने गए हैं.

जनता को एक वोट नगरसेवक (पार्षद) जबकि एक वोट नगर निकाय अध्यक्ष के लिए देना था. जिस नगर निकाय में कांग्रेस और एनसीपी का एकाधिकार था, वहां बीजेपी को जीत मिली है.

52 नगर परिषद में बीजेपी की जीत

भाजपा को नगर परिषद की 147 में से 52 सीटों पर भी जीत हासिल हुई. शिवसेना 23 सीटों के साथ दूसरे और कांग्रेस 21 सीटों के साथ तीसरे नंबर पर खिसक गई.

इसके अलावा नगर पंचायत चुनाव में भी सबसे ज्यादा 851 सीटों पर कमल खिला, जबकि शिवसेना 514 सीटों पर जीत के साथ भाजपा से काफी पीछे छूट गई.

महाराष्ट्र में नगर निकाय चुनाव विधानसभा चुनाव के बाद काफी अहम माना जा रहा था. लेकिन इस जीत को मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस के मजबूत होने के साथ ही पीएम मोदी के नोटबंदी के फैसले से जोड़कर देखा जा रहा है.

First published: 29 November 2016, 14:48 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी