Home » राजनीति » Gujarat election 2017 result live: Bjp Lead in patel community area of Hardik patel, Bjp lead in Gujarat
 

गुजरात चुनाव परिणाम 2017: पाटीदारों ने भी दी भाजपा को 'हार्दिक' बधाई

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 December 2017, 11:41 IST

गुजरात विधानसभा चुनाव 2017 में सभी सीटों के रुझान सामने आ गए हैं. 182 सीटों के रुझानों के मुताबिक फिलहाल 104 पर भाजपा, 77 पर कांग्रेस और 1 सीट पर निर्दलीय उम्मीदवार आगे चल रहे हैं. बता दें कि गुजरात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का गृह राज्य है और पिछले 22 सालों से भाजपा सत्ता में हैं. यही कारण है कि पूरे देश में गुजरात चुनाव के परिणामों पर सभी की निगाहें टिकी हुई हैं.

साल 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले ये चुनाव भाजपा और नरेंद्र मोदी के लिए काफी अहम हो गया था. फ़िलहाल तो इस चुनाव को मोदी बनाम राहुल के तौर पर देखा जा रहा था. लेकिन इस बार के गुजरात विधानसभा चुनाव में पाटीदार नेता हार्दिक पटेल को कौन भूल सकता है. भले ही हार्दिक पटेल कांग्रेस के साथ आए हैं लेकिन इसके बावजूद भी वो अपने समाज पर छाप नहीं छोड़ पाए हैं.

ऐसा छठवीं बार होगा जब गुजरात में भाजपा की सत्ता आएगी. इसके लिए पार्टी के तमाम नेताओं ने एड़ी चोटी का जोर लगा दिया था. कहा जा रहा था कि पाटीदारों की नाराजगी की वजह से भाजपा के लिए राह मुश्किल हो सकती है लेकिन ऐसा कुछ दिख नहीं रहा. पिछले काफी समय से हार्दिक पटेल ने आरक्षण मुद्दे को गुजरात में बड़ा आंदोलन बना दिया था. इसके बाद उन्होंने राजनीति शुरू की लेकिन फिर भी वह सफल साबित नहीं हो पाए.

मालूम हो कि गुजरात में पाटीदार बाहुल्य वाली 83 सीटें हैं. इसके दम पर साल 2012 में भाजपा ने जीत का परचम फहराया था. साल 2012 के विधानसभा चुनाव के परिणामों की बात करें तो इन 83 सीटों में से भाजपा ने 59 सीटें जीती थीं. वहीं, कांग्रेस को 22 सीटों पर संतोष करना पड़ा था. इसके साथ-साथ 2 सीटों पर निर्दलीय उम्मीदवार जीते थे.

वहीं, सोमवार को विधानसभा चुनाव 2017 के अब तक आए सभी 83 सीटों के रुझान की बात करें तो इस बार भी स्थिति कुछ ऐसी ही है. हालांकि इस बार भाजपा को उतनी सीटें नहीं मिली हैं. इसके बावजूद भाजपा की सीटें कांग्रेस से ज्यादा हैं. 83 सीटों के अब तक के रुझानों के अनुसार भाजपा 43 और कांग्रेस 40 सीट के साथ टक्कर में है. वहीं, सौराष्ट्र में कांग्रेस 17 सीटों से बढ़कर 32 पर पहुंच गई है.

First published: 18 December 2017, 11:41 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी